इजरायल ने राफा के पास शिविर कैंप पर किया हमला, 25 की मौत, 50 लोगों घायल

नई दिल्ली,

इजरायली सुरक्षा बलों ने शुक्रवार को गाजा के दक्षिणी शहर राफा के बाहर विस्थापित फिलिस्तीनियों के शिविरों पर गोलीबारी की , जिसमें कम से कम 25 लोग मारे गए और 50 अन्य घायल हो गए. गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय और आपातकालीन कर्मचारियों ने ये जानकारी दी है.

राफा में सिविल डिफेंस फर्स्ट रिस्पॉन्डर्स के प्रवक्ता अहमद रादवान के अनुसार, प्रत्यक्षदर्शियों ने बचाव कर्मियों को शुक्रवार को तटीय क्षेत्र में दो स्थानों पर गोलीबारी के बारे में बताया. स्वास्थ्य मंत्रालय ने अनुसार इन हमलों में 25 की मौत और 50 लोगों के घायल हो गए हैं.

‘मुवासी क्षेत्र के आसपास किया हमला’
सिविल डिफेंस और रेड क्रॉस अस्पताल ने बताया कि इजरायली सेना ने भूमध्य सागर के तट पर स्थित एक क्षेत्र मुवासी के आसपास हमले किए थे. मुवासी वह क्षेत्र है, जहां विस्थापित फिलिस्तीनियों हाल के महीनों में शिविर में रह रहे थे. रेड क्रॉस फील्ड अस्पताल के पास हुए बम विस्फोटों में जान गंवाने वाले प्रत्यक्षदर्शियों के रिश्तेदारों ने एसोसिएटेड प्रेस को बताया कि इजरायली सेना ने दूसरी बार भी गोलीबारी की, जिसमें अपने तंबूओं से बाहर निकले लोगों की मौत हो गई.

इजरायल का कहना है कि वह हमास के आतंकी और बुनियादी ढांचे को निशाना बना रहा है और नागरिकों की मौतों को कम-से-कम करने की कोशिश कर रहा है. साथ ही इजरायल ने बड़ी संख्या में नागरिकों की मौत के लिए आतंकवादियों को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि ये घटना इसलिए हुई क्योंकि वे आतंकी आबादी में छिपकर काम करते हैं.

‘हमले की समीक्षा करेगी इजरायली सेना’
वहीं, इजरायली सेना ने कहा कि इस घटना की समीक्षा की जा रही है, लेकिन ऐसा कोई संकेत नहीं है. आईडीएफ द्वारा हमला किया गया था. इजरायल के सशस्त्र बलों के लिए एक संक्षिप्त नाम का उपयोग करते हुए. इसने घटना के बारे में विस्तृत जानकारी नहीं दी या यह नहीं बताया कि लक्षित लक्ष्य क्या हो सकते थे.

इस बीच इजरायली सेना ने शुक्रवार को कहा कि मध्य गाजा में लड़ाई में दो सैनिक मारे गए. दोनों की मौत की परिस्थितियों के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई, दोनों की उम्र 20 के आसपास थी. सेना ने कहा कि तीन अन्य इजरायली सैनिक गंभीर रूप से घायल हो गए.

37 हजार से ज्यादा लोगों की मौत
गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने अनुसार, इजरायल के जमीनी हमलों और बमबारी से गाजा में 37,400 से अधिक लोग मारे गए हैं. हालांकि, मंत्रालय अपनी गणना में लड़कों और नागरिकों के बीच अंतर नहीं करता है.बता दें कि हमास आतंकियों ने इजरायल पर हमला कर दिया, जिसमें 1200 से ज्यादा लोगों की हत्या कर दी और 250 से नागरिकों को बंधक बना लिया. इसके बाद इजरायल ने 7 अक्टूबर को गाजा में हमास के ठिकानों पर हमला कर दिया.

About bheldn

Check Also

अलग-थलग रहने वाला, बुलिंग से परेशान… कौन था ट्रंप पर फायर करने वाला 20 साल का मैथ्यू?

नई दिल्ली, अमेरिका के पेंसिल्वेनिया में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे डोनाल्ड ट्रंप की …