जेपी नड्डा ने कल्लाकुरिची के मुद्दे पर कांग्रेस अध्यक्ष को लिखा पत्र, जहरीली शराब पीने से अब तक 58 लोग गंवा चुके हैं जान

नई दिल्ली,

तमिलनाडु के कल्लाकुरिची में जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. सोमवार को ये संख्या 58 हो गई, जबकि रविवार को ये संख्या 56 थी. जहरीली शराब पीने की वजह से अभी-भी कई लोगों हॉस्पिटलों में भर्ती हैं, उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है. इस मामले की जांच CBCID कर रही है.

अब इस मुद्दे पर भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के पत्र लिखा है. जेपी नड्डा ने उनसे (खड़गे) कहा कि आप संविधान बचाने का मुद्दा उठा रहे हैं, लेकिन तमिलनाडु में नकली जहरीली शराब पीने से 50 ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. साथ ही बीजेपी अध्यक्ष ने उन्हें (खड़गे) इस मुद्दे पर संसद भवन स्थित प्रेरणा स्थल पर विरोध प्रदर्शन साथ में देने के लिए भी आमंत्रित किया है.

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने तमिलनाडु में जहरीली शराब के मुद्दे को लेकर सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को पत्र लिखा. उन्होंने कांग्रेस और डीएमके सरकार पर सवाल उठाते हुए पत्र में लिखा, आप संविधान बचाने का मुद्दा उठा रहे हैं. लेकिन तमिलनाडु में नकली जहरीली शराब पीने से 50 ज़्यादा लोगों की मृत्यु हो गई है. जिनमें ज्यादातर दलित हैं. इसके लिए डीएमके और इंडी गठबंधन जिम्मेदार है.

‘कुछ मुद्दों पर है पार्टी लाइन से ऊपर उठने की जरूरत’
उन्होंने जोर देकर पत्र में कहा कि जैसा कि आप जानते हैं, करुणापुरम में बड़े पैमाने पर अनुसूचित जाति की आबादी है. जिन्हें तमिलनाडु में गरीबी और भेदभाव के कारण कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है. इसके बारे में मुझे आश्चर्य हुआ कि जब इतनी बड़ी आपदा आई है तो आपके नेतृत्व वाली कांग्रेस पार्टी ने इस पर चुप्पी साध रखी है. कुछ मुद्दों के लिए हमें पार्टी लाइनों से ऊपर उठने की आवश्यकता है और एससी-एसटी समुदाय का कल्याण और सुरक्षा ऐसा ही एक मुद्दा है.

बीजेपी ने की CBI जांच की मांग
बीजेपी अध्यक्ष ने आगे कहा कि आज सही मायने में “न्याय” पर बात करने का समय है. न कि इसे एक असफल राजनीतिक वंशवाद की शुरुआत के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले एक आकर्षक अभियान नारे तक सीमित करने का. आज तमिलनाडु और पूरा एससी समुदाय के लोग कांग्रेस पार्टी और विशेष रूप से राहुल गांधी, इंडिया ब्लॉक के नेताओं की दोहरी बातें देख रहे हैं. भाजपा ने तमिलनाडु में जहरीली शराब त्रासदी की सीबीआई जांच की मांग की है

 

About bheldn

Check Also

4 सांसदों की रिटायरमेंट के राज्यसभा में घटी बीजेपी की ताकत?, 86 पर पहुंची संख्या, जानें क्या होगी मुश्किल

नई दिल्ली, लोकसभा में पूर्ण बहुमत गंवाने के बाद अब बीजेपी को राज्यसभा में भी …