परीक्षा में फेल होने पर मां ने लगाई फटकार, गुस्साए युवक ने छोटे भाई संग उनको भी मार डाला

चेन्नै

तमिलनाडु के तिरुवल्लूर जिले में दोहरे हत्याकांड का सनसनीखेज मामला सामने आया है। जिले के उत्तरी उपनगर तिरुवोत्तियुर में 20 वर्षीय कॉलेज छात्र ने गुरुवार को अपनी मां और छोटे भाई को मार डाला। युवक ने अपने घर पर सोते समय 45 वर्षीय मां और 15 वर्षीय छोटे भाई की चाकू घोंपकर हत्या कर दी और उनका गला रेत दिया। वेलाचेरी के एक कॉलेज में बीएससी डेटा एनालिस्ट के तीसरे वर्ष के छात्र नितेश ने फिर उनके शवों को अलग-अलग प्लास्टिक बैग में लपेटा और उन्हें रसोई में छोड़कर भाग गया।

मौसी को किया मैसेज
पुलिस ने बताया कि हत्या का पता तब चला जब नितेश ने पड़ोस में रहने वाली अपनी मौसी महालक्ष्मी को मोबाइल पर मैसेज भेजा, जिसमें लिखा था- मैंने अपना मोबाइल फोन, घर की चाबी और एक छोटा सा टेप वाला बैग छोड़ा है। तुरंत मेरे घर आ जाओ। हालांकि नितेश ने शुक्रवार रात करीब 9.30 बजे संदेश भेजा था, लेकिन महालक्ष्मी को शनिवार रात करीब 12.30 बजे मैसेज दिखाई दिया।

प्लास्टिक बैग में रखे थे शव
पुलिस ने बताया कि महालक्ष्मी तुरंत पद्मा के घर पहुंची, लेकिन घर के फर्श और दीवारों पर खून के छींटे पड़े थे और हर जगह तीखी गंध थी। फिर वहां दो प्लास्टिक बैग थे जिनमें उसकी बहन पद्मा और भतीजे संजय के शव थे। सूचना मिलने पर पुलिस, फॉरेंसिक विशेषज्ञ और एक खोजी कुत्ता घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने नितेश के मोबाइल फोन टावर लोकेशन का उपयोग करके उसकी गतिविधियों पर नजर रखी और आखिरकार उसे तिरुवोत्तियुर समुद्र तट के पास खोज निकाला।

मां की हत्या क्यों की?
45 वर्षीय एम पद्मा एक्यूपंक्चर थेरेपिस्ट थीं, जबकि उनका छोटा बेटा 15 वर्षीय संजय तिरुवोत्तियुर के एक निजी स्कूल में दसवीं कक्षा का छात्र था। पद्मा के पति मुरुगन ओमान में क्रेन ऑपरेटर के रूप में कार्यरत हैं। पूछताछ के दौरान नितेश ने पुलिस को बताया कि वह अपनी मां के ‘सख्त’ होने और सेमेस्टर परीक्षाओं में खराब अंक लाने और 14 विषयों में बैक होने के बाद उसे डांटने से नाराज था।

भाई को क्यों मार डाला?
पुलिस ने कहा कि नितेश दो महीने पहले घर से भाग गया था और अपने दोस्तों और परिवार के सदस्यों के समझाने पर वह घर लौट आया। उसने पुलिस को यह भी बताया कि वह अपनी मां से नाराज था, लेकिन उसने अपने छोटे भाई को भी मार डाला। क्योंकि वह नहीं चाहता था कि वह अनाथ हो जाए।

चाची को मैसेज कर दी हत्या की सूचना
नितेश ने पुलिस को यह भी बताया कि अपराध के बाद वह या तो ट्रेन के सामने कूदना चाहता था या समुद्र में डूब जाना चाहता था, लेकिन उसने दोनों ही योजनाएं छोड़ दीं। फिर उसने अपनी चाची को हत्याओं के बारे में मैसेज भेजने का फैसला किया, क्योंकि अगले दिन के अखबारों में इस बारे में कोई खबर नहीं थी।

ओमान से लौट रहे युवक के पिता
पुलिस ने नितेश को गिरफ्तार कर लिया। उसे शहर की मजिस्ट्रेट अदालत में पेश किया जाएगा और जेल भेजा जाएगा। इस बीच पुलिस ने उसके पिता मुरुगन को उसकी पत्नी और छोटे बेटे की हत्या के बारे में सूचित किया। वह शहर वापस आ रहे हैं।

About bheldn

Check Also

आगरा में रक्षक बना भक्षक, इंसाफ का भरोसा देकर सिपाही ने किया महिला के साथ रेप, कोर्ट ने सुनाई 7 साल की सजा

आगरा: न्याय का झांसा देकर एक महिला के साथ शारीरिक शोषण करने वाले पुलिसकर्मी को …