बिहार चुनाव में किसके साथ गठबंधन करेंगे-लालू या CM नीतीश? PK ने दिया जवाब, जानिए कौन होगा खुश

पटना:

बिहार में पद यात्रा कर रहे जन सुराज के सूत्रधार प्रशांत किशोर ने राज्य में तीसरा विकल्प बनने की कोशिश कर रहे हैं। इसके लिए प्रशांत किशोर गांव-गांव जाकर जन सुराज की सियासी जमीन तैयार करने के लिए लोगों को जोड़ रहे हैं। इस बीच मंगलवार को प्रशांत किशोर ने एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान लोगों के सवालों की भी जवाब दिया। इसी दौरान प्रशांत किशोर से बिहार विधानसभा में गठबंधन को लेकर सवाल किया तो पीके भड़क गए।जन सुराज के सूत्रधार से सवाल किया गया कि बिहार विधानसभा चुनाव 2025 में वो किसके साथ गठबंधन करेंगे, लालू यादव या नीतीश कुमार के साथ? प्रशांत किशोर ने इसका जवाब देते हुए कहा कि वो किसी के माई के लाल में इतनी ताकत नहीं है कि वो प्रशांत किशोर को पैसे का लालच देकर खरीद ले। हम बिहार को सुधारे बिना मानेंगे नहीं।

न मुझे कोई खरीद सकता है और न डरा: प्रशांत किशोर
सभा में आए लोगों को आश्वस्त करते हुए प्रशांत किशोर ने कहा कि ‘हम पर भरोसा रखिए। कोई पार्टी, किसी धर्म-जाति के लोग मुझे नहीं खरीद सकते। चाहे वो कितने भी पैसे वाले क्यों न हो। मुझे कोई डरा नहीं सकता। मैं डरने वालों में से नहीं हूं। देश में कोई माई का लाल नहीं है जो मुझे खरीद सकता है।’ उन्होंने कहा कि जन सुराज आपका प्लटेफॉर्म है। ये मेरी पार्टी नहीं, बल्कि पूरे बिहार के लोगों की पार्टी होनी चाहिए, ऐसी व्यवस्था हम बना रहे हैं। हमारा किसी से कोई गठबंधन नहीं होगा।

हम सीएम बनने का सपना लेकर नहीं आए: पीके
प्रशांत किशोर ने कहा कि कई लोग सवाल करते हैं कि ये भाई, इतना मेहनत काहे कर रहे हैं। वोट मांग नहीं रहे हो, हम लोग से कुछ लिए भी नहीं तो इतना मेहनत क्यों कर रहे हो। पीके ने कहा कि कुछ लोग यह भी कहते हैं कि बिहार में मुख्यमंत्री बनने आए हैं, इसलिए इतना मेहतन कर रहे हैं। ऐसे लोगों को मैं बता देना चाहता हूं कि आप मुझे नहीं जानते हैं, हम इतना छोटा सपना लेकर नहीं पैदा हुए हैं। हम सरकार बनाने के लिए मुख्यमंत्री बनने का सपना लेकर नहीं आए हैं। ये सपना लेकर आए हैं कि अपने जीवन काल में बिहार को विकसित राज्यों की श्रेणी में देखें, ये सपना लेकर आए हैं। देखना चाहते हैं कि गुजरात, महाराष्ट्र, हरियाणा तमिलनाडु और पंजाब समेत पूरे भारत वर्ष से एक दिन लोग बिहार में आकर रोजी-रोजगार करे, तब मानेंगे कि बिहार में विकास हो रहा है।

यहां की व्यवस्था ने बिहार के लोगों को मजदूर बना दिया: प्रशांत किशोर
प्रशांत किशोर ने कहा कि हम बिहार के लोग मजदूर बनने के लिए पैदा नहीं हुए हैं। बिहार के लोग मजदूर के सप्लायर नहीं बन सकते हैं। यहां की व्यवस्थाओं ने यहां के लोगों को मजदूर बना दिया है। देश में आज जिसको मजदूर की जरूरत है, वो कहता है जाओ बिहार से मजदूर पकड़ कर ले आओ। आज किसी राज्यों में फसल नहीं कट रहा है तो कहता है- सौ बिहारी को पकड़ कर काम करवा लो। बिहार के लोग जो फैक्ट्री में काम कर सकते हैं, वो फैक्ट्री लगवा भी सकते हैं।

About bheldn

Check Also

आगरा में रक्षक बना भक्षक, इंसाफ का भरोसा देकर सिपाही ने किया महिला के साथ रेप, कोर्ट ने सुनाई 7 साल की सजा

आगरा: न्याय का झांसा देकर एक महिला के साथ शारीरिक शोषण करने वाले पुलिसकर्मी को …