Saturday , September 19 2020

सीरिया में ब्रिटिश ‘जिहादी दुल्हन’ के बच्चे की मौत

दमिश्क

दुनिया भर में ‘जिहादी दुल्हन’ के नाम से चर्चित हुई शमीमा बेगम के नवजात बेटे की मौत हो गई है। बांग्लादेशी मूल की ब्रिटिश युवती ने 2015 में सीरिया जाकर इस्लामिक स्टेट आतंकी संगठन में शामिल होने का फैसला लिया था। सीरियन डेमोक्रिट के प्रवक्ता ने बताया कि बेगम के नवजात बेटे की मौत खराब स्वास्थ्य के कारण हुई है। बच्चे का जन्म 17 फरवरी को हुआ था। खराब स्थास्थ्य के चलते शमीमा बेगम और उसके बच्चे को गुरुवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन बच्चे की मौत हो गई। शुक्रवार को उसके बच्चे को दफनाया गया।

दो सप्ताह पहले ही जन्मे बच्चे का नाम जर्राह था और जन्म के समय से ही न्यूमोनिया पीड़ित था। बच्चे की गुरुवार को तबीयत बिगड़ने के बाद, कुर्दिश रेड क्रीसेंट के मेडिकल स्टाफ ने मां और नवजात शिशु को अल-हॉल शिविर से अल-हसाकाह शहर के मुख्य अस्पताल में भेज दिया था। एनजीओ ने शुक्रवार को सीएनएन को बताया कि अस्पताल पहुंचने के कुछ घंटे बाद ही बच्चे की मौत हो गई।

आईएस में शामिल होने के लिए बेगम लंदन से भागकर सीरिया उस समय पहुंच गई, जब वह महज 15 साल की थी। वह पिछले महीने दुनिया भर में उस समय सुर्खियों में छा गई, जब उसने सार्वजनिक रूप से ब्रिटिश सरकार से उसे वापस आने की अनुमति देने का अनुरोध किया था। गौरतलब है कि ब्रिटेन सरकार ने उसकी नागरिकता वापस ले ली है। शमीमा बेगम के परिवार के लोग भी उसे ब्रिटेन वापस आने देने की मांग कर रहे हैं।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

जब मैं 24 साल की थी तो 51 साल के ट्रंप ने की थी गंदी हरकत: पूर्व मॉडल

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एक बार फिर विवादों में घिर गए हैं. एमी डोरिस नाम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)