Tuesday , October 27 2020

गृह मंत्री का बड़ा बयान, बंगाल में राष्ट्रपति शासन की मांग गलत नहीं

नई दिल्ली

देश के गृह मंत्री अमित शाह समय-समय पर पश्चिम बंगाल सरकार को घेरते नजर आते हैं। एक बार फिर उन्होंने बंगाल के हालात को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। अमित शाह ने कहा कि बंगाल में कानून व्यवस्था बिल्कुल चरमराई हुई है और सरकार कोई ध्यान नहीं दे रही। उन्होंने कहा कि यहां पर विपक्षी नेताओं को मारा जा रहा है और लोकतंत्र की हत्या की जा रही है। एक सवाल के जवाब में तो उन्होंने यहां तक कह दिया कि बीजेपी नेताओं की राष्ट्रपति शासन की मांग गलत नहीं है।

बंगाल सरकार को घेरा
गृह मंत्री अमित शाह ने एक टीवी न्यूज चैनल को इंटरव्यू देते हुए कहा, ‘पश्चिम बंगाल में अम्फान तूफान आया, पर कोई ढंग की व्यवस्था नहीं की गई। अनाप-शनाप बजट घोटालों में चला गया। केंद्र की ओर से जो अनाज भेजा गया, वो भी घोटालों की भेंट चढ़ गया। कोरोना के लिए भी जिस प्रकार के बंदोबस्त होने चाहिए थे वो नहीं हुए।’

बंगाल में बनेगी बीजेपी की सरकार: शाह
उन्होंने आगे कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था तितर-बितर हो गई है। बम बनाने के कारखाने हर जिले में हैं। शाह ने कहा कि सबसे ज्यादा चिंताजनक लोकतंत्र के लिए है कि विपक्ष के नेताओं की हत्याएं की जा रही हैं। भारत के किसी और राज्य में ऐसा नहीं होता। उन्होंने कहा कि पहले केरल से ऐसी घटनाएं सामने आती थीं, लेकिन अब वहां पर भी ऐसा नहीं होता। अमित शाह ने कहा कि इस बार बंगाल में परिवर्तन होगा और भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनेगी।

राष्ट्रपति शासन की मांग गलत नहीं: शाह
इंटरव्यू के दौरान अमित शाह से एक सवाल पूछा गया कि बंगाल बीजेपी के नेता लगातार राज्य में राष्ट्रपति शासन की मांग करते हैं आप इस बारे में क्या सोचते हैं? इस सवाल के जवाब में शाह ने स्पष्ट कहा कि पॉलिटिकल पार्टी के नेता जो वहां पर काम कर रहे हैं स्थिति के हिसाब से उनकी मांग वाजिब है। उन्होंने कहा कि वहां के हालात को अगर देखा जाए तो उनकी मांग सही है।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

अब जम्मू-कश्मीर में कोई भी खरीद सकेगा जमीन, मोदी सरकार का बड़ा फैसला

नई दिल्ली, जम्मू-कश्मीर में अब देश का कोई भी व्यक्ति जमीन खरीद सकता है और …

Do NOT follow this link or you will be banned from the site!