Wednesday , October 21 2020

सांसदों से ओम बिरला की भावुक अपील, आपसी सम्मान को बनाए रखें

नई दिल्ली,

लोकसभा में शुक्रवार को कार्यवाही के दौरान स्पीकर ओम बिरला ने सांसदों ने भावुक अपील की. उन्होंने सांसदों से चर्चा के दौरान अपनी बात रखते समय सदन की गरिमा और आपसी सम्मान को बनाए रखने की अपील की. लोकसभा अध्यक्ष ने सदस्यों से ये भी कहा कि तथ्यों के आधार पर ही अपनी बात रखें. सत्ता पक्ष और विपक्ष के सांसदों के बीच शुक्रवार को हुई तीखी बहस के बाद स्पीकर ने ये अपील की.

ओम बिरला ने कहा कि असाधारण परिस्थितियों के बीच सदन में सक्रियता से कर्तव्य और संवैधानिक दायित्वों को निभाकर माननीय सांसद पूरे देश को सकारात्मक संदेश दे रहे हैं, लेकिन चर्चा के दौरान यह भी जरूरी है कि सभी अपनी बात कहते समय सदन की गरिमा और आपसी सम्मान को बनाए रखें. तथ्यों के आधार पर ही अपनी बात रखें.

लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि सांसदों के अधिकारों का संरक्षण मेरी सर्वोच्च प्राथमिकता है. सदन की स्वस्थ परम्पराओं को जीवंत बनाए रखना हम सबका दायित्व है. सदन सुचारू चले, हम स्वास्थ्य सुरक्षा प्रोटोकॉल्स का पालन करते हुए सहयोग दें , ताकि सारी दुनिया देखे कि संकट की घड़ी में पक्ष-विपक्ष एकजुट है. स्पीकर ने कहा कि हम सिर्फ सांसद नहीं एक संस्था हैं जो लाखों लोगों का प्रतिनिधित्व करते हैं.

राजनाथ सिंह और अधीर रंजन ने क्या कहा
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि सदन स्थगित होने के बाद वे स्पीकर ओम बिरला से मिले और कुछ सदस्यों की टिप्पणी से वह बहुत आहत हुए. राजनाथ सिंह ने कहा कि हम सभी आसन का सम्मान करते हैं. युवा सांसद होने के नाते, अनुराग ठाकुर ने हो सकता है कुछ कहा हो, किसी को आहत किया हो, लेकिन यह स्पष्ट है कि इरादा किसी को पीड़ा पहुंचाना नहीं था. वहीं, कांग्रेस के सांसद ने कहा कि आसन सदन के संरक्षक हैं. हम यहां पर सरकार के सहयोग के लिए हैं. हमें आसन पर पूरा विश्वास है और हम उसका सम्मान करते हैं.

ओम बिरला को क्यों करनी पड़ी अपील
दरअसल, लोकसभा की कार्यवाही के दौरान वित्त राज्य मंत्री पीएम केअर्स फंड पर जानकारी दे रहे थे. उन्होंने बताया कि पीएम केअर्स फंड में कौन-कौन योगदान दिया. अनुराग ठाकुर ने कहा कि कोरोना से लड़ाई के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने पीएम केअर्स फंड की स्थापना की. ये जनता के लिए है. लेकिन कांग्रेस ने पीएम राष्ट्रीय राहत कोष को गांधी परिवार के लिए बनाया. वित्त राज्य मंत्री ने उन सभी नामों को उजागर करने की धमकी दी, जिन्हें पीएम राष्ट्रीय राहत कोष से लाभ मिला.

गांधी परिवार का जिक्र होते ही कांग्रेस के सांसदों ने हंगामा किया. अनुराग ठाकुर से माफी की मांग की गई. हंगामा जारी रहा. स्पीकर को कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी. कांग्रेस सांसदों के हंगामे के कारण तीन बार कार्यवाही स्थगित की गई. इसके बाद 6 बजे कार्यवाही फिर से शुरू होती है. ओम बिरला सदस्यों को समझाते हैं. इसके बाद अनुराग ठाकुर बयान देते हैं.

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

दशहरे पर चीन बॉर्डर पर शस्त्र पूजा करेंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

नई दिल्ली, चीन की सीमा पर तैनात सैनिकों के मनोबल को बढ़ाने के लिए रक्षा …

Do NOT follow this link or you will be banned from the site!