Friday , October 23 2020

तजिंदरपाल सिंह ने दिलाया गोल्ड, स्क्वैश में भारत को मिले तीन ब्रॉन्ज

जकार्ता/पालेमबांग

शॉटपुट ऐथलीट तजिंदरपाल सिंह तूर के रेकॉर्ड प्रदर्शन से हासिल किए गए गोल्ड मेडल से भारत ने ऐथलेटिक्स अभियान की बेहतरीन शुरूआत की, इस सोने के तमगे और स्क्वैश में तीन सिंगल ब्रॉन्ज मेडल ने 18वें एशियाई खेलों के 7वें दिन को देश के लिए शानदार बना दिया। मेडल टैली में भारत सात गोल्ड, पांच सिल्वर और 17 ब्रॉन्ज मेडल्स से आठवें स्थान पर बना हुआ है।

तजिंदर ने जीता सोना
तजिंदर प्रबल दावेदारों में शुमार थे, उन्होंने उम्मीद के अनुरूप खेलों और नैशनल रेकॉर्ड प्रदर्शन से शीर्ष स्थान हासिल किया। 23 वर्षीय ऐथलीट ने 20.75 मीटर से छह साल पुराने 20.69 मीटर के राष्ट्रीय रेकार्ड को तोड़ा जो ओम प्रकाश करहाना के नाम था। ऐथलेटिक्स अभियान की शुरूआत काफी अच्छी रही जिसमें पदक के उम्मीदवार मोहम्मद अनस (पुरूष 400 मीटर), अरोकिया राजीव (पुरूष 400 मीटर), हिमा दास (महिला 400 मीटर), निर्मला शेरॉन (महिला 400 मीटर) ने हीट्स और सेमीफाइनल रेस में शानदार प्रदर्शन से फाइनल्स के लिए क्वॉलिफाइ किया। दुती चंद (महिलाओं की 100 मीटर) ने भी अपनी हीट में पहला स्थान हासिल कर सेमीफाइनल में प्रवेश किया।

स्क्वैश में मिले तीन ब्रॉन्ज
स्क्वैश खिलाड़ियों का अभियान हालांकि सेमीफाइनल चरण में ही समाप्त हो गया जो तीन ब्रॉन्ज मेडल हासिल करने के लिए काफी था। पदकों की संख्या में यह उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन था। सौरभ घोषाल ने पिछली बार सिल्वर मेडल जीता था। उन्होंने, जोशना चिनप्पा और दीपिका पल्लीकल कार्तिक ने अपनी स्पर्धाओं के अंतिम चार मैच गंवा दिए। दीपिका गत चैंपियन निकोल डेविड से जबकि जोशना सिवासांगरी सुब्रमण्यम से हार गईं। शीर्ष वरीय घोषाल को हॉन्ग कॉन्ग के चुन मिंग अयू से पराजय मिली।

ब्रिज में मेडल पक्का
वहीं पदार्पण करने वाले खेल ब्रिज में भी भारत के लिए अच्छी खबर रही, जिसमें देश ने पुरुष टीम और मिश्रित टीम स्पर्धा में मेडल पक्के किए। दोनों टीमों ने अपनी अपनी स्पर्धाओं में सेमीफाइनल में प्रवेश किया। क्वॉलिफिकेशन में पुरूष टीम चौथे जबकि मिश्रित टीम शीर्ष स्थान पर काबिज थी।

हॉकी टीम का विजयी सफर जारी
महिला हॉकी टीम ने भी शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए गत चैंपियन साउथ कोरिया पर 4-1 की जीत से सेमीफाइनल में प्रवेश किया। गुरजीत कौर ने दो पेनल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील किया। बैडमिंटन में शीर्ष शटलर पीवी सिंधु और साइना नेहवाल ने महिला एकल क्वॉर्टरफाइनल में जगह सुनिश्चित की। ओलिंपिक और विश्व चैंपियनशिप सिल्वर मेडलिस्ट सिंधु ने स्थानीय प्रबल दावेदार और दुनिया की 22वें नंबर की खिलाड़ी ग्रेगोरिया मरिस्का तुनजुंग को 21-12 21-15 से जबकि कॉमनवेल्थ गेम्स की गोल्ड मेडलिस्ट साइना ने प्रबल दावेदार फितरियानी को 21-6 21-14 से मात दी।

चूके निशानेबाज
निशानेबाजी में आज भारत को जश्न मनाने का मौका नहीं मिला जिसमें 15 साल के कॉमनवेल्थ गेम्स के गोल्ड मेडलिस्ट अनीष भानवाला उम्मीदों के अनुरूप पुरूष 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल स्पर्धा में नाकाम रहे।

मुक्का चला, तीरंदाज फिसले
मुक्केबाजी में 31 वर्षीय पवित्रा (60 किग्रा) पाकिस्तान की रूखसाना परवीन को एक राउंड में हराकर क्वॉर्टरफाइनल में पहुंची। तीरंदाजी में भारत का निराशाजनक प्रदर्शन जारी रहा। पुरुष और महिला रिकर्व टीम तीरंदाज फिर से खेलों से खाली हाथ लौटेंगे। दोनों टीमें क्वॉर्टरफाइनल में बाहर हो गईं।

वेटलिफ्टर नहीं कर पाए कमाल
देश के वेटलिफ्टरों का हाल भी यही रहा। कॉमनवेल्थ गेम्स में ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाले विकास ठाकुर पुरूष 94 किग्रा वर्ग में 335 किग्रा वजन उठाकर आठवें स्थान पर रहे। गोल्फ में भी मेडल की उम्मीद को झटका लगा, सभी चारों गोल्फरों ने तीसरे दौर में ओवर पार का स्कोर बनाया। भारत इससे दूसरे स्थान से खिसककर संयुक्त रूप पांचवें स्थान पर पहुंच गया।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

IPL: राजस्थान से हारी धोनी की टीम चेन्नै, अब प्लेऑफ की राह भी मुश्किल

अबु धाबी दिग्गज महेंद्र सिंह धोनी की टीम चेन्नै सुपर किंग्स को आईपीएल-13 के मुकाबले …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)
Do NOT follow this link or you will be banned from the site!