इलाहाबाद: नाम बदला, बदनामी नहीं: प्रयागराज में पंडाल में चले गोली-बम

इलाहाबाद

इलाहाबाद के कैंट क्षेत्र में मंगलवार रात हुई सनसनीखेज वारदात में एक हिस्ट्रीशीटर को दुर्गा पूजा पंडाल के बाहर गोलियों से भून दिया गया. पूरी वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई है. हत्या की इस वारदात को चार बदमाशों ने अंजाम दिया और आसानी से फरार हो गए. मृतक नीरज बाल्मीकि अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन के लिए भी काम कर चुका था.

हिस्ट्रीशीटर नीरज बाल्मीकि का कैंट क्षेत्र में दबदबा था. शहर में हुई कई वारदातों में उसका नाम सामने आ चुका था. वह कैंट क्षेत्र स्थित अपने ससुराल में परिवार संग रहता था. साले विशाल ने बताया कि हर साल की तरह इस साल भी रेडियो स्टेशन चौराहे के पास दुर्गा पूजा का आयोजन किया गया था. रात आठ बजे के करीब नीरज पंडाल के बाहर बने फ़ूड स्टाल के पास कुर्सी पर बैठा था. इसी दौरान यहां चार युवक पहुंचे इस्न्मे से एक युवक नीरज के पास पहुंचा, जबकि तीन कुछ दूर खड़े रहे. इसी दौरान फायरिंग शुरू कर दी गई और एक बम भी फेंका.

इससे वहां भगदड़ मच गई. इसी बीच नीरज को गोलियों से छलनी कर बदमाश मिलिट्री एरिया की ओर भाग निकले. इसके बाद नीरज को पास के ही एक अस्पताल ले जाया गया. जहां से उसे एसआरएन रेफर किया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. हत्या की जानकारी पर एसएसपी व एसपी सिटी भी अस्पताल पहुंचे और परिवार वालों से पूछताछ की. परिजनों की तहरीर पर अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है.

पुलिस का कहना है कि नीरज शातिर अपराधी था. उस पर एक दर्जन से ज्यादा मुकदमे दर्ज थे. हत्या के दो मुकदमों के साथ ही रंगदारी समेत कई अन्य मामलो में उनका नाम सामे आ चुका था. 2006 के कचहरी डाकघर लूट में भी उसका नाम सामने आया था. एसएसपी नितिन तिवारी ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर हत्यारों की पहचान की जा रही है. क्राइम ब्रांच समेत तीन टीमों को मामले के खुलासे के लिए लगाया गया है.

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

जमीन बेचने के बाद नहीं मिले थे पूरे पैसे, कर्ज में डूबे किसान ने की आत्महत्या

सूरत , आर्थिक तंगी से जूझ रहे सूरत के एक किसान ने अपने ही घर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)