Saturday , October 24 2020

केरल बाढ़: पीठ की सीढ़ी बनाने वाले हीरो पर बरसे इनाम

मलप्पुरम

केरल की भीषण बाढ़ में फंसे लोगों की दंडवत होकर मदद करने वाले मछुआरे की हर ओर जमकर तारीफ हो रही है। पानी में फंसे लोगों के लिए अपनी पीठ को सीढ़ियों की तरह पेश करने वाले मलप्पुरम के 32 वर्षीय केपी जैसल रातों-रात हीरो बन गए हैं। रेस्क्यू के दौरान उनका विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। इसके बाद उन्हें दुनियाभर से प्रशंसा मिल रही है। मलप्पुरम के पास तनूर के चप्पापडी के निवासी जैसल पर अब इनामों की बारिश हो रही है। उन्हें नकद इनाम के साथ ही नया घर देने का भी ऐलान किया जा रहा है।

मुथलमडू के पास बाढ़ प्रभावित इलाके वेंगरा में रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान 17 अगस्त को यह विडियो बनाया गया था। मलप्पुरम की ट्रॉमा केयर यूनिट के स्वयंसेवक जैसल को इसी दिन सुबह फोन पर लोगों के एक बड़े समूह के बाढ़ में फंसे होने की जानकारी मिली। इनमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल थे।

इस वजह से की लेटकर मदद
टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में जैसल ने कहा, ‘जैसी कि हमें जानकारी मिली थी वहां फंसी एक गर्भवती महिला को ब्लीडिंग होने लगी। मुझे ट्रॉमा केयर में इस बारे में प्रशिक्षण दिया जा चुका है और मैं जानता था कि प्रेग्नेंट महिला के लिए रेस्क्यू के दौरान पानी से सीधे नाव पर चढ़ना बहुत मुश्किल होगा। चूंकि व्यावहारिक रूप से इतने सारे लोगों के बीच गर्भवती महिला को पहचान पाना संभव नहीं था। इसलिए मैंने पानी में दंडवत होकर पेट के बल लेटने का फैसला किया। इससे वे सारे लोग मेरे शरीर के ऊपर से गुजरते हुए नाव पर आसानी से बैठ गए।’

तंगी से जूझ रहे हैं जैसल
जैसल अपने एक कमरे के घर में पत्नी और तीन बच्चों के साथ रहते हैं। चेट्टिपडी के पास स्थित साधम बीच पर बने उनके घर की छत टपकती रहती है। पिछले 10 साल से वह राहत कार्यों में हिस्सा ले रहे हैं। पिछले साल आए ओखी चक्रवात में उनकी नाव बह गई थी। इसके बाद से उन्हें काफी कठिनाई से गुजर-बसर करनी पड़ रही है।

‘विडियो वायरल होने के बाद नहीं रख पा रहा फोन’
बाढ़ के पानी में डूबे घरों में अब सफाई अभियान में जुटे जैसल का कहना है, ‘जब समाज इतनी बड़ी आपदा से जूझ रहा हो तो यह हर व्यक्ति की जिम्मेदारी और कर्तव्य है कि वह राहत कार्यों में हिस्सा लेते हुए लोगों की मदद करे।’ विडियो को मिली प्रतिक्रिया पर हैरानी जताते हुए उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं पता कि इसे किसने शूट किया और इंटरनेट पर पोस्ट कर दिया लेकिन तभी से मैं अपने फोन को नहीं रख पा रहा हूं और लोग लगातार मुझे कॉल कर रहे हैं।’ एक स्थानीय संगठन ने पहले ही जैसल को नया घर देने का प्रस्ताव रखा है। वहीं मशहूर मलयाली फिल्म डायरेक्टर विनयन ने जैसल को 1 लाख रुपये की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

अब वक्त है अपना खून बहाने का… कश्मीर पर महबूबा ने खाई यह कसम, BJP लाल

श्रीनगर पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने एक विवादित बयान दिया है। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)
Do NOT follow this link or you will be banned from the site!