Thursday , October 29 2020

बिहार चुनाव में उछला Article 370 का मुद्दा, चिदंबरम के एक बयान ने दे दिया मौका

नई दिल्ली

बिहार में राजनीति चरम पर है। मतदान के अब ज्यादा दिन नहीं बचे हैं ऐसे में सभी राजनैतिक दल दांव पेंच खेलकर वोटरों को लुभाने में लगे हैं। इस वक्त हर एक पार्टी और उसके नेता फूंक फूंक कर कदम रख रहे हैं लेकिन कांग्रेस के एक नेता ने ऐसा मामला छेड़ दिया है जिससे पार्टी को बिहार चुनाव में नुकसान हो सकता है।

पी चिदंबरम का बयान
दरअसल, बिहार में बात तो विकास की हो रही थी लेकिन अब यहां धारा 370 का मामला गर्मा गया है। ये सब शुरू हुआ कांग्रेसी नेता पी चिदंबरम के एक बयान से। पी चिदंबरम ने एक बयान में कहा था कि मोदी सरकार के 5 अगस्त 2019 के असंवैधानिक फैसले को रद्द किया जाना चाहिए। चिदंबरम ने अनुच्छेद 370 (Article 370 And Bihar Election) हटाने को गलत करार देते हुए ट्वीट किया कि ‘जम्मू-कश्मीर की मुख्यधारा की क्षेत्रीय पार्टियों का जम्मू, कश्मीर और लद्दाख के लोगों के अधिकारों को बहाल करने के लिए संवैधानिक लड़ाई लड़ने के लिए एक साथ आना ऐसा घटनाक्रम है, जिसका सभी लोगों द्वारा स्वागत किया जाना चाहिए।’

वोट के खातिर समाज बांटने का आरोप
बस फिर क्या था। भाजपा ने कांग्रेस को इसी मुद्दे पर घेर लिया। भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कांग्रेस पर बिहार चुनाव से पहले वोट की खातिर समाज को बांटने की राजनीति करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि लोगों ने जम्मू कश्मीर में केंद्र के कदम का समर्थन किया है। बिहार विधानसभा के प्रथम चरण का मतदान 28 अक्टूबर को, दूसरे चरण का तीन नवंबर को और तीसरे चरण का मतदान सात नवंबर को होना है। मतगणना 10 नवंबर को होगी।

अलगाववाद के सुर बोल रही कांग्रेस- जावेडकर
जावड़ेकर ने कहा , ‘लोगों ने देखा है कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख में कितनी प्रगति हुई है। फिर भी कांग्रेस वहां कुछ अलगाववादियों के सुर में बोल रही है। कांग्रेस एक संकीर्ण सोच वाली पार्टी हो गई है और यही कारण है कि वह देश में जन भावनाओं के खिलाफ खड़ी है।’ उन्होंने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि चाहे कोई भी मुद्दा हो, कांग्रेस पाकिस्तान और चीन की सराहना करती है।

शाहनवाज हुसैन ने कांग्रेस पर लगाया आरोप
इसी मामले को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने शनिवार को कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) से तीखे सवाल किए हैं। शाहनवाज हुसैन ने कहा कि धारा-370 को लेकर कांग्रेस एवं राजद अपना रुख साफ करें। बिहार प्रदेश भाजपा मीडिया सेंटर में शनिवार को हुसैन ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कांग्रेस अपनी आदत से मजबूर है।

पीएम मोदी ने धारा 370 रुपी कलंक को हटा दिया- शाहनवाज हुसैन
उन्होंने कहा, ‘आजादी के बाद धारा 370 जम्मू-कश्मीर में लगाई गई थी, जिसको हटाने के लिए डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने बलिदान दिया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धारा 370 रुपी कलंक को हटा दिया। लेकिन, जब फारुख अबदुल्ला, महबूबा मुफ्ती कॉन्फ्रेंस कर फिर से धारा-370 को लाने की वकालत करते हैं और कांग्रेस भी उस एजेंडे के साथ खड़ी है।’ कांग्रेस पर निशाना साधते हुए हुसैन ने कहा कि, ‘पहले तो कांग्रेस ने बहाना बनाया कि वह इस कॉन्फ्रेंस में नहीं है, लेकिन कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने साफ तौर पर कह दिया कि धारा 370 हटाना गैर-कानूनी है और उसे स्थापित किया जाना चाहिए।’

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

बिहार चुनाव…तो क्या नीतीश कुमार को है मोदी लहर की दरकार?

पटना बिहार विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री के रूप में 15 साल से काम कर रहे …

Do NOT follow this link or you will be banned from the site!