दादा नियमों की किताब पढ़ाओ इनको… हंगामे पर चढ़ा लोकसभा अध्यक्ष का पारा

लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्षी सांसदों ने शोर-शराबा शुरू कर दिया। लगातार नारेबाजी और सदन में तख्तियां लहराने से लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला नाराज हो गए। उन्होंने विपक्षी सांसदों से मुखातिब होते हुए कहा- आपने सवाल लगाए हैं, लेकिन प्रश्न नहीं पूछना चाहते। आप तख्तियां लेकर आए हैं। उन्होंने कांग्रेस सांसद अधीर रंजन को संबोधित करते हुए कहा- दादा नियमों की किताब लेकर खड़े हैं और नियमों की किताब आपने पढ़ रखी है। दादा नियम की किताब पढ़ाओ इनको। बिरला ने कहा- नियम 349 के तहत सदन के अंदर तख्तियां लेकर आना उचित नहीं है। यह परंपरा ठीक नहीं है। आपको सदन के अंदर उच्च परंपराओं का पालन करना चाहिए। आप बाहर जाकर किसानों की बात करते हैं, अंदर सदन में किसानों की बात नहीं करते हैं। बाहर जाकर महंगाई की बात करते हैं, अंदर सदन में महंगाई पर चर्चा नहीं करते हैं। मैंने आपको पिछले सत्र में महंगाई पर चर्चा की अनुमति दी थी। आपने चर्चा नहीं की उस पर। यह अब गलत तरीका है।

आप सांसदों का सरकार के खिलाफ प्रदर्शन
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को सिंगापुर जाने की इजाजत नहीं मिलने के खिलाफ आम आदमी पार्टी के सांसदों ने भी संसद परिसर में प्रदर्शन किया। संजय सिंह के नेतृत्व में आप के सभी सांसदों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

राहुल गांधी का मोदी सरकार पर हल्लाबोल
कांग्रेस नेता और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने भी सरकार की नीतियों के खिलाफ संसद भवन में गांधी प्रतिमा के सामने विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया। राहुल गांधी के साथ विपक्ष के कई सांसद शामिल थे। राहुल ने भी बढ़ती महंगाई, प्राइस राइज के मु्द्दे पर सरकार को घेरा।

संसद परिसर में विपक्ष का प्रदर्शन
राज्यसभा में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन में हिस्सा लिया। विपक्षी दलों ने महंगाई, बढ़ती कीमतें और खाने-पीने के जरूरी सामान पर जीएसटी रेट बढ़ाने को लेकर संसद परिसर में प्रदर्शन किया। खड़गे ने कहा कि हम इसके खिलाफ लड़ाई जारी रखेंगे।

About bheldn

Check Also

मोदी 3.0 में जेपी नड्डा को बड़ी जिम्मेदारी, राज्यसभा में बनाए गए सदन के नेता

नई दिल्ली, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को पार्टी ने …