गौतम अडानी दे रहे हैं बंपर कमाई का मौका, आ रहा है उनकी एक और कंपनी का आईपीओ

नई दिल्ली

निवेशकों के पास आईपीओ मार्केट में कमाई का शानदार मौका आ रहा है। भारत और एशिया के सबसे बड़े रईस गौतम अडानी के निवेश वाली एक और कंपनी शेयर बाजार में दस्तक देने जा रही है। एनबीएफसी कंपनी अडानी कैपिटल आईपीओ के जरिए 1500 करोड़ रुपये जुटाने की योजना बना रही है। कंपनी का आईपीओ साल 2024 में आ सकता है। इससे पहले अडानी ग्रुप की सात कंपनियां शेयर बाजार में लिस्ट हो चुकी हैं। इस लिस्ट में सबसे ताजा नाम अडानी विल्मर का है जो हाल में लिस्ट हुई थी। अडानी ग्रुप की कंपनियों ने हाल के वर्षों में निवेशकों को मालामाल किया है। इसकी बदौलत अडानी भारत और एशिया के सबसे बड़े रईस बनकर उभरे हैं। वह दुनिया के रईसों की लिस्ट में चौथे नंबर पर हैं।

अडानी कैपिटल के मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर गौरव गुप्ता ने कहा कि आईपीओ के तहत 10 फीसदी हिस्सेदारी बेची जाएगी और दो अरब डॉलर के वैल्यूएशन का टारगेट रखा गया है। उन्होंने कहा कि जब कोई कंपनी लिस्ट होती है तो उसकी पूंजी जुटाने की क्षमता बढ़ जाती है। अडानी कैपिटल किसानों और छोटे कारोबारियों को लोन देती है। हालांकि देश के फाइनेंशियल सेक्टर में इसकी हिस्सेदारी बहुत कम है। कंपनी टेक्नोलॉजी की मदद से ज्यादा से ज्यादा मार्केट कब्जाना चाहती है। उसकी नजर 30 हजार से लेकर 30 लाख रुपये तक के लोन पर है।

क्या करती है कंपनी
गुप्ता ने कहा कि अडानी कैपिटल कोई फिनटेक कंपनी नहीं है बल्किए एक क्रेडिट कंपनी है। हम कस्टमर्स को जुटाने के लिए टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर रहे हैं। कंपनी डायरेक्ट-टू-कस्टमर डिस्ट्रिब्यूशन मॉडल का इस्तेमाल करती है और उसका 90 परसेंट बिजनस सेल्फ जेनरेटेड है। गुप्ता 2016 में अडानी के साथ जुड़े थे। उन्हें बैंकिंग को दो दशक से भी अधिक अनुभव है। वह नोमुरा होल्डिंग्स इंक, Rothschild & Co में काम कर चुके हैं। वह Macquarie Group Ltd के भारत में इनवेस्टमेंट बैंकिंग के हेड के तौर पर भी काम कर चुके हैं।

अडानी ने 2017 में अपनी फाइनेंशियल यूनिट की शुरुआत की थी। 31 मार्च, 2021 को खत्म वित्त वर्ष में कंपनी की नेट इनकम 16.3 करोड़ रुपये थी। इस कंपनी के आठ राज्यों में 154 ब्रांचेज हैं और 60,000 लोगों ने इससे कर्ज ले रखा है। कंपनी ने करीब 30 अरब रुपये लोन दे रखा है। गुप्ता ने कहा कि उनकी योजना हर साल लोन बुक को दोगुना करने की है। अगर कंपनी आईपीओ लाती है तो यह लिस्ट होने वाली अडानी ग्रुप की आठवीं कंपनी होगी।

About bheldn

Check Also

टेस्‍ला ने साध ली है चुप्‍पी, आखिर भारत की अपनी योजनाओं के बारे में कुछ बताती क्‍यों नहीं?

नई दिल्ली अमेरिकी इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी टेस्ला ‘चुप’ है। उसने अभी तक नई ईवी …