रोहित की तूफानी पारी का कमाल, पहले टी-20 में भारत ने वेस्टइंडीज़ को 68 रनों से हराया

नई दिल्ली,

भारत ने वेस्टइंडीज को पहले टी20 में 68 रनों से हराकर 5 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। ब्रायन लारा स्टेडियम में खेले जा रहे इस मुकाबले में टॉस हाकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया ने रोहित शर्मा के अधर्शतक और दिनेश कार्तिक की तूफानी पारी के दम पर बोर्ड पर 6 विकेट के नुकसान पर 190 रन बनाए। इस स्कोर का पीछा करते हुए वेस्टइंडीज निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 122 रन बना सकी। भारत के लिए अर्शदीप सिंह, आर अश्विन, और रवि बिश्नोई ने 2-2 विकेट लिए। इस मैच में टीम की जीत के हीरो कप्तान रोहित शर्मा रहे, जिन्होंने 64 रनों की जबरदस्त पारी खेली.

टीम इंडिया ने इस मैच में पहले बैटिंग करते हुए 190 रन बनाए, जवाब में वेस्टइंडीज़ 20 ओवर खेलकर 122 रन ही बना पाई. वेस्टइंडीज़ ने अपने 8 विकेट गंवा दिए थे, लेकिन अंत में टीम इंडिया ने इस मैच को 68 रनों से जीता और पांच मैच की सीरीज़ में 1-0 से बढ़त बना ली.

स्पिनर्स की जोड़ी ने तोड़ी विंडीज़ की कमर
191 रनों की पीछा करने उतरी वेस्टइंडीज़ की टीम ने शुरुआत से ही अपने विकेट गंवाने शुरू कर दिए. अर्शदीप सिंह ने सबसे पहले काइल मायर्स को चलता किया, उनके बाद जेसन होल्डर भी बिना खाता खोले आउट हुए. लेकिन वेस्टइंडीज़ के लिए रविचंद्रन अश्विन और रवि बिश्नोई की जोड़ी बुरा सपना बनकर आई. दोनों स्पिनर्स ने कुल चार विकेट निकाले, अश्विन ने अपने 4 ओवर में सिर्फ 22 रन दिए और 2 विकेट लिए. जबकि रवि बिश्नोई ने 4 ओवर में 26 रन दिए और 2 ही विकेट लिए. वेस्टइंडीज़ की ओर से एस. ब्रूक्स ने 20, कप्तान निकोलस पूरन ने 18 रनों की पारी खेली.

कप्तान रोहित की वापसी से मजबूत भारत
इससे पहले कप्तान रोहित शर्मा की 64 रन की पारी के बाद आखिरी ओवरों में दिनेश कार्तिक की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के दम पर भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट पर 190 रन बनाए। रोहित ने 44 गेंद की पारी में सात चौके और दो छक्के जड़े तो वही कार्तिक ने 19 गेंद की नाबाद पारी में चार चौके और दो छक्के की मदद से 41 रन बनाये। रोहित इस दौरान टी20 अंतरराष्ट्रीय में एक बार फिर से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गये। न्यूजीलैंड के सलामी बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल दो दिन पहले ही इस प्रारूप में रोहित की जगह सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बने थे।

मैच से पहले दोनों के बीच दोनों के बीच 21 रन का फासला था लेकिन भारतीय कप्तान ने बड़ी पारी खेल यह रिकॉर्ड अपने नाम किया। टी20 अंतरराष्ट्रीय में गुप्टिल के नाम 3399 रन है जबकि रोहित के नाम अब 3443 रन हो गये है। इस मैदान पर यह पहला टी20 अंतरराष्ट्रीय है जिसमें भारतीय टीम एक बार फिर नयी सलामी जोड़ी के साथ मैदान पर उतरी। रोहित ने सूर्यकुमार यादव (24) के साथ पारी का आगाज कर सब को चौका दिया। दोनों ने शुरुआती 4.4 ओवर में 44 रन जोड़कर टीम को अच्छी शुरुआत दिलायी।

सूर्यकुमार यादव ने शुरुआती ओवर में ओबेद मैकॉय के खिलाफ चौका लगाकर खाता खोला तो वही रोहित ने दूसरे ओवर में होल्डर का स्वागत छक्के से किया। तीसरे ओवर में स्पिनर अकील हुसैन की पहली ही गेंद पर काइल मायर्स ने सूर्यकुमार का कैच टपका दिया। सूर्यकुमार ने इसके बाद पदार्पण कर रहे अल्जारी जोसेफ के ओवर में छक्का और चौका लगाया लेकिन हुसैन की गेंद पर होल्डर को कैच थमा बैठे। उन्होंने ने 16 गेंद की पारी में तीन चौके और एक छक्का जड़ा। अगले ओवर में श्रेयस अय्यर खाता खोले बगैर मैकॉय की गेंद पर हुसैन को कैच थमा कर पवेलियन लौट गये।

रोहित एक छोर पर डटे रहे लेकिन दूसरे छोर से शानदार लय में चल रहे ऋषभ पंत (14 रन) हार्दिक पंड्या (एक रन) जल्दी पवेलियन लौट गये। रोहित ने 12वें ओवर में जोसेफ के खिलाफ दूसरी और तीसरी गेंदों पर लगातार चौके जड़कर टी20 अंतरराष्ट्रीय करियर का अपना 27वां अर्धशतक और टीम के रनों का सैकड़ा पूरा किया। उन्होंने 14वें ओवर में ओडिन स्मिथ के खिलाफ दो चौके जड़े लेकिन 15वें ओवर में होल्डर की गेंद पर शिमरोन हेटमायर को कैच थमा बैठे।

अगले ओवर में रविन्द्र जडेजा (16 रन) भी आउट हो गये। वह जोसेफ का दूसरा शिकार बने। वेस्टइंडीज के 17वां और 18वां ओवर किफायती रही लेकिन कार्तिक और रविचंद्रन अश्विन ने 19वें ओवर में एक-एक छक्का लगाकर 21 रन बटोरे। कार्तिक ने इसके बाद आखिरी ओवर में मैकॉय के खिलाफ छक्का और दो चौके लगाकर 15 रन बटोरे और टीम के स्कोर को 190 तक पहुंचाया। दोनों ने सातवें विकेट के लिए 52 रन की अटूट साझेदारी की। वेस्टइंडीज के लिए जोसेफ ने दो जबकि मैकॉय, होल्डर, हुसैन और कीमो पॉल ने एक-एक विकेट लिये।

About bheldn

Check Also

अफगानिस्तान पर बेईमानी के आरोप, क्या कोच के इशारे पर जानबूझकर गिरे गुलबदीन?

किंग्सटाउन: अफगानिस्तान ने बांग्लादेश को सुपर-8 राउंड के आखिरी मैच में डकवर्थ लुईस प्रणाली से …