भारत सरकार का बड़ा कदम, अब ऑनलाइन फ्रॉड होगा जड़ से खत्म

भारत सरकार ने आज बजट 2023 में DigiLocker को बढ़ाने की बात कही हैं। इसका एक्सपेंशन खासतौर से KYC से जुड़ी घटनाओं को रोकने के लिए है। इससे नागरिकों से लेकर बिजनेसेज को भी फायदा होगा। इससे डिजिटल इंडिया को भी बढ़ावा मिलेगा. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज बजट 2023 में ऐलान किया है कि सरकार DigiLocker ज्यादा यूजफुल बनाएगी। इसे डिजिटल इंडिया इनिशिएटिव के तहत बढ़ाया जाएगा। इससे भारत में KYC से जुड़ी एक्टिविटीज को बढ़ाने में मदद मिलेगी। सरकार की प्लानिंग के हिसाब से वो DigiLocker को बड़े-छोटे बिजनेस और चैरिटेबल ट्रस्ट के लिए तैयार करेगी, जिससे इस एप में डॉक्युमेंट्स को आसानी से स्टोर किया जा सके और इसे चुटकियों में ऑनलाइन शेयर किया जा सके।

बता दें, DigiLocker को इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा 2015 में डिजिटल इंडिया इनिशिएटिव के तहत लॉन्च किया गया था। यह सिक्योर एप यूजर्स को जरूरी सरकारी दस्तावेजों को डिजिटली स्टोर और शेयर करने की आजादी देता है। डिजिलॉकर के एक्सपेंशन की खबर से बिजनेस की दुनिया काफी खुश है।

KYC से जुड़ी घटनाएं कम करना भी उद्देश्य
वित्त मंत्री के ऐलान के बाद Xiaomi India के प्रेजिडेंट मुरलीकृष्णन ने ट्वीट किया, “DigiLocker का एक्सपेंशन दोनों नागरिक और बिजनेस के लिए अच्छा होने वाला है। इससे डिजिटल इकॉनमी बूस्ट होगी। देश के नागरिक और सरकार दोनों इससे ज्यादा दक्ष और स्मार्ट बनेंगे। केंद्रीय मंत्री ने कहा की DigiLocker अब KYC के लिए वन-स्टॉप बनेगा। इससे डॉक्युमेंट्स में आसानी से बदलाव किया जा सकेग। इससे KYC से जुड़ी धांधली कम होंगी। नागरिकों से लेकर बिजनेस और संस्थाओं की पहचान या ऑथेंटिकेशन इसी एप पर हो सकेगा।

स्मार्टफोन में प्री-इन्सटाल्ड आएगी एप
डिजिटल इंडिया को बढ़ावा देने के लिए डिजिलॉकर और ऑनलाइन डॉक्यूमेंटशन को भी बढ़ावा दिया जा रहा है। उम्मीद है की आने वाले समय में स्मार्टफोन्स में DigiLocker पहले से ही इनस्टॉल होकर आएगा। कुछ समय पहले ही नेशनल ई-गवर्नेंस के CEO अभिषेक सिंह ने कहा था कि यह एप जल्द ही एंड्राइड का हिस्सा होगी। इसलिए उम्मीद है की फ़ोन्स में यह एप प्री-इन्सटाल्ड आएगी।

Digilocker है क्या?
अगर अब तक आपको इस एप के बारे में जानकारी नहीं है तो बता दें, DigiLocker भारत सरकार का अहम प्रोग्राम है जो भारत को डिजिटल लेकर जाना चाहता है। यह एक तरह का पब्लिक क्लाउड है, जहां आप अपने सरकारी दस्तावेज सुरक्षित रूप से स्टोर कर सकते हैं। इससे न दस्तावेजों को खोने का डर और ना हर जगह साथ ले जाने की जरूरत, क्योंकि डॉक्युमेंट्स तो आपके फोन में एप में मौजूद होंगे।

About bheldn

Check Also

ब्रिटेन के पीएम और उनकी पत्‍नी की रईसी कैसे बढ़ा रही इन्‍फोसिस? अमीरों की लिस्‍ट में और ऊपर

नई दिल्‍ली: इन्‍फोसिस के कारण ब्रिटेन के पीएम ऋषि सुनक और उनकी पत्‍नी अक्षता मूर्ति …