कब लगेगा ब्रेक, अडानी को SC से मिली राहत, लेकिन बढ़ी निगरानी, रेड जोन में अडानी के

नई दिल्ली

गौतम अडानी के लिए मंगलवार का दिन कुछ खास अच्छा नहीं रहा है। अडानी के शेयरों में जबरदस्त गिरावट देखने को मिली है। सुप्रीम कोर्ट से भले ही अडानी को राहत मिल गई हो, लेकिन अडानी के शेयरों को बड़ा झटका लगा है। अडानी समूह की कंपनियों के दस के दस शेयर आज लाल निशान पर हैं। अडानी ग्रीन एनर्जी को तगड़ा झटका लगा है, जिसके बाद अडानी के शेयर आज धड़ाम हो गए। हालांकि सोमवार को अडानी को सुप्रीम कोर्ट से राहत मिली। सुप्रीम कोर्ट ने डायरेक्ट्रेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलीजेंस की याचिका को खारिज कर अडानी और गौतम अडानी को बड़ी राहत दी। इस राहत का असर मंगलवार को अडानी के शेयरों पर देखने को नहीं मिला।

  • अडानी के शेयरों में बड़ी गिरावट
  • मंगलवार को अडानी के दस के दस शेयर धड़ाम हो गए। दोपहर 12 बजे अडानी एंटरप्राइजेज के शेयर 7.07 फीसदी गिरकर 1601.40 रुपये पर पहुंच गया।
  • अडानी पोर्ट के शेयर 6.90 फीसदी गिरकर 590.80 रुपये पर पहुंच गया है।
  • अडानी पावर लिमिटेड के शेयर आज 5 फीसदी गिरकर 173.85 रुपये पर पहुंच गया।
  • अडानी ट्रांसमिशन के शेयर 5 फीसदी गिरकर 1015.75 रुपये पर पहुंच गया।
  • अडानी ग्रीन एनर्जी के शेयर भी 5 फीसदी गिरकर 935.50 रुपये पर पहुंच गया।
  • अडानी टोटल गैस के शेयर में 5 फीसदी की गिरावट आई और ये लुढ़कर 910.45 रुपये पर पहुंच गया।
  • अडानी विल्मर के शेयर 4.64 फीसदी गिरकर 369.65 रुपये पर पहुंच गया।
  • एसीसी सीमेंट के शेयर में आज 4.38 फीसदी की गिरावट आई और ये गिरकर 1611 रुपये पर पहुंच गया।
  • अंबुजा सीमेंट के शेयर 2.07 फीसदी गिरकर 362.10 रुपये पर पहुंच गए।
  • NDTV के शेयर 4.99 फीसदी गिरकर 174.35 रुपये पर ट्रेड कर रहा है।

अडानी को कोर्ट से राहत , बाजार में झटका
अडानी को सुप्रीम कोर्ट से राहत मिली। सुप्रीम कोर्ट ने अडानी पावर की दो सहयोगी कंपनियों के खिलाफ कस्टम्स डिपार्टमेंट की उस अपील को खारिज कर दिया, जिसमें उन कंपनियों पर विदेशों से मंगाए गए कैपिटल गुड्स को अधिक रूप से अधिक दिखाने का आरोप लगा था। विभाग ने अडानी पावर पर आरोप लगाया कि कंपनी ने इंपोर्टेड कैपिटल गुड्स का अधिक वैल्यूएशन लगाया था। कोर्ट ने इन आरोपों को खारिज कर दिया है। जहां कोर्ट से अडानी को राहत मिली तो वहीं सुप्रीम कोर्ट से झटका लगा है। अडानी समूह की दो कंपनियों को अतिरिक्त निगरानी में रखा है। अडानी समूह की दोनों कंपनियों को एएसएम फ्रेमवर्क में बनाए रखने का फैसला किया है। बीएसई और एनएसई ने अडानी की इन कंपनियों को एएसएम फ्रेमवर्क में बनाए रखने का फैसला किया है।

गौतम अडानी की दौलत और घटी
अडानी समूह की कंपनियों के शेयर गिरने का असर गौतम अडानी के नेटवर्थ पर देखने को मिला। फोर्ब्स रियल टाइम बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक गौतम अडानी का नेटवर्थ 4 अरब डॉलर गिर गया। गौतम अडानी इस लिस्ट में 46.3 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ 24वें नंबर पर है। गौरतलब है कि हिंडनबर्ग की रिपोर्ट आने से पहले गौतम अडानी का नेटवर्थ 127 अरब डॉलर था।

About bheldn

Check Also

21 साल से कम उम्र के लोगों को नहीं मिलेगी सिगरेट, उल्लंघन पर 3 साल की सजा और एक लाख तक जुर्माना

नई दिल्ली कर्नाटक विधानसभा ने बुधवार को COTPA अधिनियम (सिगरेट और अन्य तंबाकू उत्पाद) में …