बृजभूषण सिंह के चैलेंज पर बजरंग पूनिया का ऐलान- पहलवान नार्को टेस्ट के लिए तैयार

नई दिल्ली,

रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के नार्को टेस्ट कराने वाले चैलेंज को बजरंग पूनिया ने स्वीकार कर लिया है. पूनिया ने जवाब देते हुए कहा है कि अगर फेडरेशन के घोटाले गिनने हैं तो हम नार्को टेस्ट कराने के लिए तैयार हैं. उन्होंने आगे कहा, ‘जिन लड़कियों ने शिकायत की है, वह भी नार्को टेस्ट कराने के लिए तैयार हैं. इसके साथ ही उन्होंने कोच विनोद तोमर, जितेंद्र और धीरेंद्र का भी नार्को टेस्ट कराने की मांग की है.

इससे पहले बृजभूषण सिंह ने अपने फेसबुक अकाउंट पर कहा था कि वह नार्को टेस्ट, पॉलिग्राफी टेस्ट या लाइ डिटेक्टर करवाने के लिये तैयार हैं, लेकिन उनकी शर्त है कि उनके साथ विनेश फोगाट और बजरंग पुनिया का भी टेस्ट होना चाहिए. उन्होंने आगे कहा था कि अगर दोनों पहलवान अपना टेस्ट कराने के लिये तैयार हैं तो वह वादा करते हैं कि इसके लिये तैयार रहेंगे.

आरोप साबित हुए तो फांसी पर लटक जाऊंगा: बृजभूषण
बृजभूषण पर लगे यौन शोषण के आरोपों का क्या है झारखंड कनेक्शन?
बृजभूषण इसके पहले भी अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को गलत बता चुके हैं. लखनऊ में बोलते हुए बृजभूषण सिंह ने कहा था कि अगर आरोप साबित होते हैं तो वह फांसी पर लटक जाएंगे. जो भी लोग साजिश कर रहे हैं, मुंह के बल गिर चुके हैं. उन्होंने कहा था कि सारे आरोप ‘गुड टच और बैड टच’ के हैं और सारे आरोप किसी बंद कमरे के नहीं, बल्कि एक बड़े हॉल के अंदर टच करने के हैं. चीजें कोर्ट में हैं और विचाराधीन हैं, इसलिए वह ज्यादा कुछ नहीं कहेंगे..

पहलवानों के धरने को खाप पंचायतों का समर्थन
बता दें कि दिल्ली पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट की दखल पर बृजभूषण के खिलाफ पॉक्सो एक्ट और अन्य संबंधित धाराओं में केस दर्ज किया था. आरोप लगाने वाली महिला पहलवानों के धारा 164 के तहत बयान दर्ज किए जा चुके हैं. बृजभूषण से भी दिल्ली पुलिस ने पूछताछ की थी. पहलवान बृजभूषण को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं. पहलवानों के धरने को किसानों और खाप का भी समर्थन मिला हुआ है.

23 मई को पहलवान निकालेंगे कैंडल मार्च
इससे पहले रविवार को हरियाणा के महम में एक खाप पंचायत आयोजित की गई थी. पंचायत में फैसला लिया गया था कि पहलवान 28 मई को नई संसद के बाहर महिला महापंचायत आयोजित करेंगे. पंचायत के दौरान यह भी निर्णय लिया गया था कि जंतर-मंतर पर बृजभूषण शरण सिंह की गिरफ्तारी के खिलाफ पहलवानों के मौजूदा धरने के 1 महीने के अवसर पर 23 मई को इंडिया गेट तक कैंडल मार्च निकाला जाएगा. इससे पहले, दिल्ली के जंतर-मंतर पर 7 मई को भी खाप पंचायत हुई थी जिसमें सरकार को बृजभूषण की गिरफ्तारी के लिए 15 दिन का अल्टीमेटम दिया गया था.

 

About bheldn

Check Also

मोदी की बातों को वाहियात बताने वाले मुस्लिम नेता पर गिरी गाज, BJP ने पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया

बीकानेर/जयपुर राजस्थान में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण की वोटिंग से पहले बीजेपी ने बड़ा …