हे भगवान संसद में ऐसे अपशब्द! बुरी तरह घिर गए दिल्ली से BJP के सांसद रमेश बिधूड़ी

नई दिल्ली

‘ओए …, ओए उग्रवादी, ऐ उग्रवादी बीच में मत बोलना, ये आतंकवादी-उग्रवादी है, ये मुल्ला आतंकवादी है… इसकी बात नोट करते रहना अभी बाहर देखूंगा इस मुल्ले को।’ यह शब्द केंद्र की सत्ता में आसीन भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ सांसद रमेश बिधूड़ी के हैं। श्रीमान जी संसद में दक्षिण दिल्ली का प्रतिनिधित्व करते हैं। जिस तरह के सड़क छाप शब्दों का उन्होंने लोकसभा में इस्तेमाल किया और उसे सुनकर पूर्व केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने मुस्कान बिखेरी, यह दृश्य बहुत से लोगों को नागवार गुजरा। भाजपा समर्थकों ने तो चुप्पी साध रखी है, लेकिन विपक्ष के कई नेताओं और आम लोगों ने एक सांसद के मुंह से ऐसे अपशब्द सुनकर माथा पकड़ लिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के ज्यादातर नेता बात-बात पर जिस लोकतंत्र के मंदिर की बात करते हैं वहीं पर उनके ही एक सांसद किस तरह के शब्दों का इस्तेमाल कर रहे थे, यह उन्हें वीडियो को रिवाइंड करके सुनना चाहिए। राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने बिधूड़ी के संबोधन का एक हिस्सा शेयर करते हुए लिखा है कि कोई शर्म नहीं बची है। बाद में राजनाथ सिंह को खेद जताना पड़ा। कांग्रेस और AAP ने ट्वीट कर पीएम मोदी पर निशाना साधा है।

बिधूड़ी ने किसे कहा मुल्ला आतंकी
प्रियंका चतुर्वेदी ने बताया है कि रमेश बिधूड़ी ने अपने साथी बसपा सांसद दानिश अली के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया। उन्होंने पूछा है कि क्या लोकसभा के स्पीकर इसे संज्ञान में लेते हुए ऐक्शन लेंगे? सोशल मीडिया पर कई लोगों ने लिखा है कि बात-बात पर विपक्ष के सदस्यों को सस्पेंड कर सदन से बाहर करने वाले दौर में क्या सत्तारूढ़ पार्टी के सांसद की अभद्रता को इग्नोर किया जाएगा? शिवम कुमार ने पीएम मोदी और स्पीकर ओम बिरला को टैग करते हुए लिखा, ‘भारत के संसद में कैसे कैसे सड़क छाप भाषा बोलने लोग पहुंच गए हैं। क्या ये सब संसदीय शब्द है? सांसद पर कार्रवाई होगी या नहीं।’

दीपक कुशवाहा ने कहा, ‘कल मैं एक आप के सांसद को सुन रहा था राज्यसभा में, उन्होंने बीजेपी के लिए धोखा शब्द का इस्तेमाल किया तो स्पीकर साहब भड़क गए तुरंत एक्शन लिया और बोले ये अनपार्लियामेंट्री शब्द है रेकॉर्ड पर नहीं जाएगा। इतने दोहरे चरित्र… एक ही दिन बीजेपी सांसद कुछ भी बोलें सब चंगा सी।’ कई लोगों ने गूगल पर सर्च कर भाजपा सांसद बिधूड़ी के बारे में जानने की कोशिश की है। आइए जानते हैं बिधूड़ी कौन हैं। (तस्वीर में सबसे बाएं बिधूड़ी)

राजनाथ ने कहा खेद है
बसपा सांसद दानिश अली के लिए अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल करने वाले भाजपा सांसद रमेश बिधूड़ी के बारे में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को सफाई देनी पड़ी। उनके शब्दों को सदन की कार्यवाही से हटा दिया गया। राजनाथ ने कहा कि उन्होंने वह बात नहीं सुनी लेकिन बिधूड़ी ने अगर ऐसा कुछ कहा है जिससे बसपा सांसद की भावनाएं आहत हुई हैं तो मैं इस पर खेद व्यक्त करता हूं।

​रमेश बिधूड़ी के बारे में जानिए

  • दिल्ली में जन्मे बिधूड़ी ने बीकॉम, एलएलबी की डिग्री ली है। उन्होंने प्रोफेशन में वकील, बिजनस, किसान और सोशल वर्कर लिखा है।
  • वह 2003 से मई 2014 तक दिल्ली के विधायक रहे। 2014 और 2019 में लोकसभा के सदस्य निर्वाचित हुए।
    वह शहरी विकास, ओबीसी कल्याण, श्रम और रोजगार से संबंधित कई समितियों में शामिल रहे हैं। बिधूड़ी बुजुर्गों के लिए स्वास्थ्य शिविर आयोजित कराते रहते हैं। पढ़ाई के समय में वह क्रिकेट खेलते थे।
  • अक्सर वह विवादित बयान देते रहे हैं। कुछ समय पहले उनका एक बयान काफी चर्चा में रहा था जब एक माता-पिता स्कूल की समस्या लेकर पहुंचे थे। बिधूड़ी ने कहा था कि बच्चे पैदा क्यों किए फिर?
  • इससे पहले भाजपा सांसद ने कहा था कि जहां भी मुसलमान अल्पसंख्यक होते हैं वहां मानवाधिकारों की बात होती है और जहां ये बहुमत में आ जाते हैं वहां खूनखराबा शुरू हो जाता है। ​​

About bheldn

Check Also

100 रुपये फीस और ये शर्त… जिसके बाद ही कोई बन पाता है BJP का राष्ट्रीय अध्यक्ष?

नई दिल्ली, भारतीय जनता पार्टी के नए अध्यक्ष को लेकर कई खबरें आ रही हैं …