पूरी दुनिया में बजेगा भारत के UPI का डंका! अब इन देशों में पीएम मोदी करने जा रहे शुरुआत

नई दिल्ली

भारत के यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस यानी दुनियाभर में फेमस हुआ है। सिंगापुर, यूएई, नेपाल, भूटान और फ्रांस में यूपीआई सेवाएं पहले से ही एक्टिव हैं। अब श्रीलंका और मॉरीशस में यूपीआई लॉन्च होने जा रहा है। इससे उन भारतीयों को फायदा होगा जो श्रीलंका और मॉरीशस की यात्रा करेंगे। वहीं इन देशों के नागरिक जब भारत आएंगे तो उन्हें भी काफी सहूलियत मिलेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार यानी 12 फरवरी को श्रीलंका और मॉरीशस में यूपीआई की शुरुआत करने वाले हैं। पीएम मोदी दोपहर एक बजे दोनों देशों के लिए इन सर्विसेज की शुरुआत करेंगे। इस दौरान श्रीलंका के प्रेसिडेंट रानिल विक्रमसिंघे और मॉरीशस के पीएम प्रविंद जुगनाथ भी मौजूद होंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जुड़ेंगे।

हाल ही में फ्रांस की राजधानी पेरिस में स्थित एफिल टावर पर भी यूपीआई की सर्विस शुरू की गई थी। फ्रांस इस सेवा को धीरे-धीरे पूरे देश में लागू करने वाला है। इन दोनों देशों में भी यूपीआई (UPI) और रुपे कनेक्टिविटी मिल जाएगी। इसे यूपीआई को ग्लोबल बनाने की दिशा में बड़ा कदम माना जा रहा है।

भारत की डिजिटल कनेक्टिविटी बढ़ेगी
भारत फिनटेक क्रांति का लीडर बनकर सामने आया है। श्रीलंका और मॉरीशस के साथ भारत के सांस्कृतिक और सामाजिक रिश्ते हैं। इस लॉन्च से दोनों तरफ के लोगों को सीमा पार डिजिटल ट्रांजेक्शन की सुविधाएं मिल सकेंगी। इससे इन देशों के साथ भारत की डिजिटल कनेक्टिविटी भी बढ़ेगी। विदेश मंत्रालय के मुताबिक, मॉरीशस में रुपे कार्ड सर्विसेज शुरू हो जाने के बाद रुपे कार्ड (RuPay Card) का इस्तेमाल भारत के साथ-साथ मॉरीशस में भी किया जा सकेगा। पीएम मोदी इस यूपीआई सर्विस को सहयोगी देशों तक पहुंचाने की पुरजोर कोशिश कर रहे हैं। देश में डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत हो चुका है।

होंगे ये फायदे
विदेश मंत्रालय के मुताबिक, इस लॉन्च के बाद यूपीआई सर्विस श्रीलंका और मॉरीशस में शुरू हो जाएगी. इस सेवा के जरिए इन दोनों देशों में जाने वाले भारतीय पर्यटक और भारत आने मॉरीशस के नागरिक भी फायदे में रहेंगे। मॉरीशस के लिए रुपे कनेक्टिविटी भी शुरू की जाएगी।

About bheldn

Check Also

पेट्रोल-डीजल की कीमत में कमी भूल जाइए, सूख गया है ‘दोस्त’ रूस की टंकी का डिस्काउंट

नई दिल्ली चुनावी साल में अगर आप पेट्रोल-डीजल की कीमत में कटौती की उम्मीद कर …