कोरोना के कारण ‘गरीब’ हुए राजनीतिक दल, BJP को 39% कम चंदा, कांग्रेस को भी नहीं मिले दानदाता

नई दिल्ली

देश के मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों को इस साल कम चंदा मिला है। वर्ष 2020-21 में राजनीतिक दलों को जो चंदा मिला है इससे पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 420 करोड़ रुपये से कम है। यानी बड़े दलों को 41.49 कम चंदा मिला है। चुनावों से संबंधित विश्लेषण करने वाले समूह एडीआर ने गुरुवार को यह जानकारी दी। गौरतलब है कि 2020-21 के शुरू होने से कुछ दिन पहले ही कोविड महामारी की पहली लहर आई थी और देशभर में लॉकडाउन लगाया गया था।

बीजेपी के चंदे में 39 प्रतिशत की गिरावट
द एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) ने एक बयान में कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के चंदे में 39.23 प्रतिशत की गिरावट आई जो 2019-20 में 758.77 करोड़ रुपये से गिरकर 2020-21 में 477.54 करोड़ रुपये रह गया। इससे पहले 2018-19 की तुलना में 2019-20 में पार्टी को मिलने वाला चंदा 5.88 प्रतिशत बढ़ गया था।

कांग्रेस को बेहद कम मिला चंदा
कांग्रेस को मिले चंदे में 46.39 प्रतिशत की गिरावट आई जो 2019-20 में 139.016 करोड़ रुपये से गिरकर 2020-21 में 74.524 करोड़ रुपये रह गया। बयान के अनुसार 2018-19 से 2019-20 के बीच कांग्रेस का चंदा 6.44 प्रतिशत घट गया था। राष्ट्रीय दलों को दिल्ली से कुल 246 करोड़ रुपये, महाराष्ट्र से 71.68 करोड़ रुपये तथा गुजरात से 47 करोड़ रुपये से अधिक का चंदा मिला था।

देश में 8 मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय दल
बीजेपी, बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी), कांग्रेस, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा), भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी-मार्क्सवादी (सीपीएम), तृणमूल कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और नेशनल पीपल्स पार्टी देश के आठ मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय दल हैं।

कॉरपोरेट से खूब मिला चंदा
कॉरपोरेट और व्यावसायिक क्षेत्र ने राष्ट्रीय दलों को 480.655 करोड़ रुपये का दान दिया, जो कुल दान का 80 प्रतिशत से अधिक था, जबकि 2,258 व्यक्तिगत दाताओं ने वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान इन पार्टियों को कुल 111.65 करोड़ रुपये या 18.804 प्रतिशत का योगदान दिया। कॉरपोरेट और व्यावसायिक क्षेत्र से 1,100 से अधिक दान बीजेपी को मिले (416.794 करोड़ रुपये), जबकि 1,071 व्यक्तिगत दानदाताओं ने वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान पार्टी को 60.37 करोड़ रुपये दिए। वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान कांग्रेस को कॉरपोरेट क्षेत्र से 146 दान के माध्यम से कुल 35.89 करोड़ रुपये और 931 व्यक्तिगत दाताओं के माध्यम से 38.634 करोड़ रुपये प्राप्त हुए।

About bheldn

Check Also

MP: गर्भवती महिला के हाथ-पैर काटकर हत्या, फिर शव को जलाया, पुलिस को देख जलती चिता छोड़कर भागे ससुराल वाले

राजगढ़, मध्य प्रदेश के राजगढ़ जिले से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. …