भगवान का आशीर्वाद तो ठीक लेकिन शादी के बाद कुछ किया नहीं तो बच्चे कैसे होंगे? यह क्या बोल गए गडकरी

अमरावती

केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ बीजेपी नेता नितिन गडकरी अक्सर अपने बेबाक बयानों की वजह से चर्चा में रहते हैं। इसी कड़ी में वो महाराष्ट्र के अमरावती में दिए एक बयान की वजह से दोबारा सुर्ख़ियों में हैं। उन्होंने कहा कि शादी होने के बाद अगर आप ने कुछ किया ही नहीं तो बच्चे कैसे पैदा होंगे? गडकरी ने कहा कि आप को भगवान का आशीर्वाद मिला है लेकिन अगर शादी के बाद आप कुछ नहीं करेंगे तो बच्चे कैसे होंगे। आपको कुछ अपनी तरफ से प्रयास करना होगा। उनके इस बयान के बाद वहां मौजूद लोग भी हंसने लगे। जिसके बाद गडकरी ने कहा कि आप मेरे शब्दों का गलत मतलब न निकालें। मुझे बस इतना कहना है की आप सब प्रयत्नवादी बनें।

गडकरी ने कहा कि हमें खेती करनी है, तो पहले क्रमांक पर खेती, दूसरे नंबर पर व्यवसाय और तीसरे नंबर पर नौकरी होनी चाहिए। अगर आपने तय कर लिया तो आधुनिक तकनीक के जरिये अपनी उत्पादन क्षमता को बढ़ा सकते हैं और खर्च को कम कर सकते हैं। साथ ही ग्लोबल मार्किट में अपना उत्पाद बेच सकते हैं। उन्होंने कहा कि विलास शिंदे लंदन में अपना अंगूर बेच सकते हैं तो अपने संतरे विदेशी बाजार में क्यों नहीं जा सकते हैं। आखिर हम क्यों पीछे हैं। इसके लिए पश्चिम महाराष्ट्र नहीं बल्कि आप खुद जिम्मेदार हैं।

बाप दिखाओ नहीं तो श्राद्ध करो
नितिन गडकरी ने कृषि महाविद्यालय में कर्मचारियों की भी खिंचाई की। उन्होंने कहा कि एक एकड़ में 20 क्विंटल सोयाबीन पैदा होना चाहिए। मैं कोशिश करके थक गया, पांच क्विंटल से ज्यादा नहीं होता है, यह बोलने से काम नहीं चलेगा। एक एकड़ में 20 क्विंटल कपास होनी चाहिए। अगर आप ऐसा कर सकते हैं तो ही कुछ फायदा होगा। वरना छठवां और सातवां वेतन देकर कोई मतलब नहीं है। बाप दिखाओ नहीं तो श्राद्ध करो। उत्पादन कैसे बढ़ाना है यह हमको बताइये।

About bheldn

Check Also

ट्रंप की सुरक्षा क्या वेश्याओं संग होटल में सोने वाले सीक्रेट सर्विस एजेंटों के भरोसे थी, 27 हजार करोड़ खर्च फिर भी चूक

वॉशिंगटन: 14 अप्रैल, 2012 की बात है, जब अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा थे। उस …