BJP के 16 या JMM के 21 विधायक? झारखंड में जेएमएम या बीजेपी, किसको लगेगा झटका?

रांची

झारखंड में जल्द ही बड़े राजनीतिक बदलाव की पटकथा लिखी जा रही है। इस क्रम में बयानबाजी का दौर भी जोरों पर है। झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) की ओर से सोमवार को एक बड़ा दावा किया गया है, जिसमें कहा गया कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के 16 विधायकों ने पार्टी तोड़ने का मन बनाया है। वहीं भाजपा ने इस सनसनीखेज दावे को हास्यास्पद और सरासर झूठ बताते हुए कहा है कि झारखंड मुक्ति मोर्चा खुद समाप्ति के कगार पर है। बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने दावा किया है कि जेएमएम के 21 विधायकों ने विद्रोह करने का मन बना लिया है।

जेएमएम के केंद्रीय समिति के सदस्य सुप्रियो भट्टाचार्य ने सोमवार को रांची में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि प्रदेश भाजपा नेतृत्व और विधायक दल के स्वयंभू नेता से नाराज होकर बीजेपी के 16 विधायकों ने अलग गुट बनाकर जेएमएम में शामिल होने का आवेदन दिया है। उन्होंने कहा कि इन बीजेपी विधायकों को महाराष्ट्र की तरह ग्रुप तैयार करने में महारत हासिल है। पार्टी ने इस पर गंभीरता से विचार करने का मन बनाया है, अगर बीजेपी के वे 16 विधायक अलग गुट बनाकर सरकार को समर्थन देने के लिए तैयार है, तो जेएमएम इसका स्वागत करेगा।

राष्ट्रपति चुनाव में पार्टी के सभी 30 विधायकों ने सबूत दे दिया: JMM
पत्रकारों ने भट्टाचार्य से जब यह पूछा कि झामुमो के कई विधायकों की सरकार से नाराजगी की बात सामने आ रही है, तो उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी पूरी तरह इंटैक्ट है। राष्ट्रपति चुनाव में पार्टी के सभी 30 विधायकों ने एक साथ पार्टी के निर्णय के अनुसार वोट डालकर अभी-अभी इसका प्रमाण दिया है।

लूट-खसोट वाली झामुमो की सरकार की बुनियाद ही झूठ पर टिकी: BJP
वहीं भाजपा ने झामुमो प्रवक्ता के इस दावे पर तत्काल पलटवार किया। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल नाथ शाहदेव ने कहा कि लूट-खसोट वाली झामुमो की सरकार की बुनियाद ही झूठ पर टिकी है। पार्टी के विधायकों लोबिन हेंब्रम एवं सीता सोरेन ने अपनी ही सरकार पर भ्रष्टाचार के कई आरोप लगाये हैं। सरकार के पास उनके आरोपों का जवाब नहीं है। यह पार्टी अब खुद खत्म होने वाली है। उन्हें भाजपा के विधायकों की चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है।

जेएमएम के 21 विधायकों ने बगावत कर दी है: BJP सांसद
इधर, बीजेपी सांसद डॉ निशिकांत दुबे ने सोमवार को ट्वीट कर कहा कि जेएमएम के महासचिव पंकज मिश्रा के जेल जाने के बाद पार्टी बौखला गई है। जेएमएम के 21 विधायकों ने बगावत कर दी है। मुख्यमंत्री के परिवार में ही बगावत है। इसलिए ख्याली पुलाव बना रहे हैं। भाजपा चोरों की जमात और भ्रष्टाचारी पार्टी से लड़ रही है। भाजपा के ऑफिस का मच्छर भी झामुमो से नफरत करता है।

‘बीजेपी सरकार बनते ही MLA लोबिन हेम्ब्रम के साथ न्याय किया जाएगा’
निशिकांत दूबे ने एक और ट्वीट कर कहा कि इस बार भाजपा की सरकार बनते ही दुर्गा सोरेन, सुनील महतो, निर्मल महतो, विनोद बिहारी महतो की मृत्यु किन कारणों से हुई, उसकी जांच करायी जाएगी। विधायक लोबिन हेम्ब्रम के साथ न्याय किया जाएगा। साइमन मरांडी, एके राय, रामदयाल मुंडा जैसे को सम्मान दिया जाएगा।

About bheldn

Check Also

‘नीतीश का NDA में लौटना नुकसानदेह’, दीपांकर भट्टाचार्य ने JDU-BJP दोस्ती को लेकर किया बड़ा खुलासा, सियासी हलचल तय

पटना भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी-लेनिनवादी) लिबरेशन के नेता दीपांकर भट्टाचार्य ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश …