तांडव, जगुआर, रंगबाज जैसे गैंग… प्रयागराज के नामी स्कूलों के लड़के बन रहे ‘बमबाज’

प्रयागराज:

तांडव, जगुआर, इमॉर्टल, रंगबाज…. सुनने में ये शमशेरा, पुष्पा या बाहुबली जैसी किसी फिल्म के सीक्वल के नाम जैसे लगते हैं और ये नाम फिल्मों के रखे भी जाएं तो उन पर सूट करेंगे लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि ये किसी फिल्म के नहीं बल्कि प्रयागराज में स्कूली बच्चों के ‘गैंग्स’ के नाम हैं। प्रयागराज के हाई स्कूल और इंटरमीडिएट के छात्रों के ये ‘गिरोह’ पिछले तीन महीनों में अलग-अलग स्कूलों के बाहर कम से कम 6 बम विस्फोट की घटनाओं में शामिल पाए गए हैं।

दरअसल, प्रयागराज के नामी-गिरामी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों ने वॉट्सऐप पर अपने-अपने ‘गैंग’ बना रखे हैं। इन गैंग्स ने यू-ट्यूब से बम बनाने के तरीके सीखे और वर्चस्व और दहशत स्थापित करने के लिए बमबाजी के वीडियो सोशल मीडिया में डालकर खूब शेयर किए। गैंग में शामिल ये स्टूडेंट लगातार सोशल मीडिया के जरिए दूसरे गैंग पर दबाव बढ़ाने के लिए तरह-तरह के विडियो भी शेयर करते रहते हैं। शहर में अचानक बढ़ी बमबाजी की घटनाओं के बाद पुलिस की जांच में ये चौंकाने वाली जानकारियां सामने आई हैं।

जांच में पता चला कि शहर के नामी-गिरामी स्कूलों के बच्चों ने हॉलिवुड फिल्म के नाम पर अपने-अपने गैंग बनाए हैं और इन्हीं गैंग में शामिल छात्र सदस्य बमबाजी कर रहे हैं। इसके बाद पुलिस ने 11 छात्रों को हिरासत में लिया। इनमें से एक छात्र जो बालिग था उसे जेल भेज दिया बाकी 10 छात्रों को बाल संरक्षण गृह भेजा गया है। एसएसपी के मुताबिक बच्चों का करियर प्रभावित न इसको ध्यान में रखा जाएगा। साथ ही ऐसी कार्रवाई की जाएगी जिससे बच्चों को सबक भी मिले।

शहर के नामी स्कूलों के बच्चे
शहर में बमबाजी की घटनाओं से पुलिस की नाम में दम करने वाले ऐसे गैंग ने खुद को तांडव, इमोर्टल लॉरेंस, रामदल, सॉलिटेयर समेत कई नाम दे रखे हैं। हर ग्रुप में दस से लेकर 100 सदस्य तक हैं। पुलिस ने सीसीटीवी की मदद से अब तक 35 स्टूडेंट्स को हिरासत में लेकर पूछताछ की। इनमें अधिकांश नाबालिग हैं। पुलिस के अनुसार तांडव गैंग में 100 तो इमोर्टल में 40 सदस्य हैं। इनमें से ज्यादातर अभी पकड़ से दूर हैं। पुलिस के मुताबिक इन गैंग्स में बीएचएस, बिशप जॉनसन स्कूल ऐंड कॉलेज, महर्षि पतंजलि विद्या मंदिर, श्री महाप्रभु पब्लिक स्कूल, जीआईसी और डीपीएस के स्टूडेंट शामिल हैं।

वर्चस्व की जंग
पुलिस की जांच में लगातार नए-नए गैंग सामने आ रहे हैं। ये लोग हॉलिवुड की फिल्मों से प्रेरित होकर ऐसी घटनाएं कर रहे हैं। ज्यादातर घटनाएं वर्चस्व स्थापित करने के लिए की गई हैं। पुलिस लगातार स्कूलों की मदद से ऐसे बिगड़ैल स्टूडेंट्स की तलाश कर रही है। पुलिस के मुताबिक वर्चस्व की जंग में छात्र गुटों ने बमबाजी की घटनाएं की हैं। वहीं छात्रों के स्कूलों के प्रधानाचार्यों का कहना है कि अभी उन्हें जानकारी नहीं है। अगर बाल संरक्षण गृह से पुष्टि के लिए कोई सूचना आएगी तो आरोपित छात्रों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

स्कूलों के बाहर पुलिस की सख्ती
इस खुलासे के बाद स्कूलों के बाहर पुलिस की सख्ती बढ़ा दी गई है। छुट्टी व स्कूल खुलने के समय पुलिस निगरानी कर रही है। एसएसपी ने निर्देश दिए हैं कि स्कूलों के बाहर बेवजह जमा होने वालों से पूछताछ की जाए और चेतावनी दी जाए। दोबारा नजर आने पर कार्रवाई की जाए। उनके अभिभावकों को भी बुलाकर जानकारी दी जाए।एसएसपी, प्रयागराज शैलेश पांडेय ने कहा कि मामले में जांच की जा रही है। एसओजी को भी लगाया गया है। स्कूलों को भी चेतावनी दी गई है। पकड़े गए स्टूडेंट्स के जरिए गैंग के सोशल मीडिया अकाउंट्स पर भी नजर रखी जा रही है।

About bheldn

Check Also

अहमदाबाद की एक फैक्ट्री में ब्लास्ट, मालिक समेत दो की मौत, चार अन्य घायल

अहमदाबाद: गुजरात के अहमदाबाद के ओढव इंडस्ट्रियल इलाके में एक दर्दनाक हादसा सामने आया है। …