ताइवान के नजदीक आग उगल रही चीनी नौसेना, जानें क्या होता है लाइव फायर ड्रिल

चीन ने अमेरिका को धमकाने के लिए ताइवान के नजदीर लाइव फायर ड्रिल शुरू किया है। इस ड्रिल को लेकर चीन के पिंगटन मैरीटाइम सेफ्टी एडमिनिस्ट्रेशन ने नेविगेशन वॉर्निंग भी जारी की है। लाइव फायर ड्रिल के दौरान चीन अपने युद्धपोतों से रॉकेट, मिसाइल, टारपीडो, हैवी मशीनगन की ताकत का प्रदर्शन कर रहा है। इसमें चीन के युद्धपोत, एयरक्राफ्ट कैरियर और पनडुब्बियों ने हिस्सा लिया।

चीन ने क्यों शुरू की लाइव फायर ड्रिल
चीनी नौसेना की लाइव फायर ड्रिल को अमेरिकी हाउस की अध्यक्ष नेन्सी पेलोसी की संभावित ताइवान यात्रा का जवाब बताया जा रहा है। इसका दूसरा मकसद ताइवान और अमेरिका को चीन की नौसैनिक शक्ति का प्रदर्शन करना है। चीन ने यह भी जताया कि कि वह अमेरिकी नेताओं की ताइवान यात्रा को लेकर काफी संवेदनशील है।

क्या होता है लाइव फायर ड्रिल
लाइव फायर ड्रिल मिलिट्री एक्सरसाइज का ही एक रूप है। इसमें गोला-बारूद, रॉकेट और मिसाइलों को लाइव फायर कर उसकी ताकत जांची जाती है। सेनाएं जब भी एक्सरसाइज के दौरान लाइव गोला-बारूद को फायर करती है, तो उसे लाइव फायर ड्रिल का नाम दिया जाता है। यह परीक्षण ऐसे क्षेत्र में किए जाते हैं, जहां कोई हताहत न हो सके।

लाइव फायर ड्रिल का उद्देश्य क्या है
यह ड्रिल रंगरूटों को अपने अपने हथियारों के आदी होने का अवसर प्रदान करता है। इससे वे जानते हैं कि इन बड़े-बड़े हथियारों को कैसे ऑपरेट किया जाता है। दूसरा यह कि ऐसे ड्रिल में सैनिक दुश्मन की जवाबी कार्रवाई की चिंता किए बगैर लाइव गोला-बारूद, रॉकेट और मिसाइलों को फायर कर सकते हैं। इससे सैनिक यह भी सीखते हैं कि वास्तव में बड़े हथियारों का इस्तेमाल कैसे और कब किया जाए और इसका प्रभाव क्या होता है।

चीनी के पास दुनिया के सबसे घातक युद्धपोत
चीन ने हाल के कई वर्षों में अलग-अलग क्लास के आधुनिक युद्धपोतों का निर्माण किया है। इसमें टाइप 052D विध्वंसक, टाइप 055 बड़े विध्वंसक और टाइप 075 एम्फीबियस अटैक शिप शामिल हैं। टाइप 055 गाइडेड मिसाइल डिस्ट्रॉयर को दुनिया का सबसे अडवांस और शक्तिशाली युद्धपोत बताया जाता है।

कितनी ताकतवर है चीनी नौसेना
चीन की नौसेना में कुल 777 युद्धपोत शामिल हैं। इनमें दो एयरक्राफ्ट कैरियर, 1 हेलीकॉप्टर कैरियर, 41 विध्वंसक, 49 फ्रिगेट, 70 कॉर्वेट्स, 79 पनडुब्बियां, 152 पेट्रोल शिप और 36 माइन स्वीपर्स हैं। चीन का तीसरा एयरक्राफ्ट कैरियर फुजियान अभी समुद्री परीक्षण के दौर से गुजर रहा है।

चीन के पास दुनिया की सबसे बड़ी नौसेना
वर्तमान में चीन के पास दुनिया की सबसे बड़ी नौसेना है। चीनी नौसेना में अमेरिकी नौसेना से भी अधिक युद्धपोत शामिल हैं। इसके बावजूद फायर पावर के मामले में अमेरिकी नौसेना कई गुना आगे है। चीन इस अंतर को कम करने के लिए काफी तेजी से युद्धपोत और पनडुब्बियों का निर्माण कर रहा है।

About bheldn

Check Also

अंतरिक्ष में फंसीं सुनीता विलियम्स! सिर्फ 27 दिन का फ्यूल बाकी… जानें- कहां हुई परेशानी

नई दिल्ली, भारतीय मूल की अंतरिक्ष यात्री सुनीता विलियम्स क्या अंतरिक्ष में फंस गई हैं? …