कभी कॉलेज नहीं गईं सावित्री जिंदल, आज बनीं एशिया की सबसे अमीर महिला

नई दिल्ली

एशिया की सबसे अमीर महिला अब एक भारतीय बन गई है। भारत की सावित्री जिंदल ने चीन की यांग हुईयन को पीछे छोड़ एशिया की सबसे अमीर महिला होने का खिताब अपने नाम किया है। हुईयन बीते पांच वर्षों से एशिया की सबसे अमीर महिला थीं। चीन के रियल एस्टेट संकट ने हुईयन से यह तमगा छीन लिया। वह चीन के सबसे बड़े रियल एस्टेट डेवलपर कंट्री गार्डन होल्डिंग्स को कंट्रोल करती हैं। चीन में रियल एस्टेट संकट के चलते हुईयन की संपत्ति में काफी गिरावट आई। अपने पति ओम प्रकाश जिंदल की मौत के बाद सावित्री जिंदल ने ही पति का कारोबार संभाला। उनके पति जिंदल समूह के संस्थापक थे।

जानिए कितनी है संपत्ति
ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स के अनुसार, जिंदल ग्रुप की मुखिया सावित्री जिंदल की संपत्ति 11.3 अरब डॉलर है। वहीं, यांग हुईयन की संपत्ति गिरकर 11 अरब डॉलर पर आ गई। यह पिछले साल करीब 24 अरब डॉलर थी। सावित्री जिंदल पिछले कुछ वर्षों से भारत की सबसे अमीर महिला बनी हुई हैं। जिंदल के बाद भारत की सबसे अमीर महिलाओं की लिस्ट में किरण मजूमदार और कृष्णा गोदरेज का नाम आता है।

हेलीकॉप्टर दुर्घटना में हो गई थी पति की मौत
सावित्री जिंदल का जीवन संघर्षों से भरा रहा है। वे जब 55 साल की थीं, तब उनके पति ओम प्रकाश जिंदल की मौत हो गई थी। ओम प्रकाश जिंदल समूह के संस्थापक थे। ओम प्रकाश की मौत एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में हुई थी। इसके बाद उन्होंने अपने पति का कारोबार संभाला। कोरोना काल के दौरान साल 2019 और 2020 में सावित्री जिंदल की संपत्ति 50 फीसदी तक घट गई थी। इसके बाद केवल दो साल में ही उनकी संपत्ति तीन गुना से अधिक हो गई।

कभी नहीं गई कॉलेज
एक रिपोर्ट के अनुसार, सावित्री जिंदल कभी कॉलेज नहीं गईं। इसके बावजूद पति की आकस्मिक मौत के बाद उन्होंने ही पूरा कारोबार संभाला। सावित्री जिंदल कहती हैं कि जिंदल परिवार में अधिकतर महिलाएं घर की जिम्मेदारी संभालती हैं। जबकि पुरुष बाहर के काम देखते हैं। इसके चलते सावित्री को अपने पति का कारोबार संभालने में काफी मेहनक करनी पड़ी।

असम के तिनसुकिया में बीता बचपन
सावित्री जिंदल लगातार जिंदल ग्रुप को आगे ले जाने की दिशा में काम कर रही हैं। सावित्री का जन्म 20 मार्च 1950 को हुआ था। उनका बचपन असम के तिनसुकिया शहर में बीता। उन्होंने ओम प्रकाश जिंदल से साल 1970 में शादी की थी। उनके पति हरियाणा सरकार में मंत्री और हिसार निर्वाचन क्षेत्र से हरियाणा विधानसभा सदस्य भी रहे थे। सावित्री जिंदल के कुल 9 बच्चे हैं।

About bheldn

Check Also

राहुल गांधी वायनाड से देंगे इस्तीफा, रायबरेली से रहेंगे सांसद, प्रियंका गांधी लड़ेंगी चुनाव

तिरुवनंतपुरम कांग्रेस नेता राहुल गांधी केरल की वायनाड लोकसभा सीट से इस्तीफा देंगे। इस बात …