अगर संपत्ति जब्त की तो…. रूस ने अमेरिका को दे दी द्विपक्षीय संबंध पूरी तरह खत्म करने की चेतावनी

मॉस्को

यूक्रेन युद्ध को लेकर अमेरिका और रूस के बीच तल्खियां बढ़ती ही जा रही है। अमेरिका समेत यूरोपीय यूनियन के कई देशों ने रूस पर प्रतिबंधों की बौछार की हुई है। अब रूस ने पलटवार करते हुए अमेरिका को चेतावनी दी है कि अगर उसकी संपत्तियों को जब्त किया जा जाता है तो वह अमेरिका के साथ अपने द्विपक्षीय संबंधों को पूरी तरह से खत्म कर देगा। अगर ऐसा होता है तो वैश्विक व्यवस्था में भारी गड़बड़ी हो सकती है, क्योंकि ये दोनों राष्ट्र सैन्य शक्ति के मामले में पूरी दुनिया में पहले और दूसरे स्थान पर काबिज हैं। इतना ही नहीं, द्विपक्षीय संबंधों के खत्म होते ही दुनिया पर तीसरे विश्व युद्ध का खतरा भी मंडराने लगेगा।

अमेरिका ने जब्त किए हैं रूस के 640 बिलियन डॉलर
यूक्रेन पर हमले के कारण पश्चिम ने रूस पर अभूतपूर्व आर्थिक, वित्तीय और राजनयिक प्रतिबंध लगाए हैं। इनमें रूस के लगभग आधे सोने और विदेशी मुद्रा भंडार को फ्रीज करना भी शामिल है। रूस की इन संपत्तियों की अनुमानित कीमत 24 फरवरी से पहले 640 बिलियन डॉलर से भी ज्यादा थी। इस बीच यूरोपीय संघ की विदेश नीति के प्रमुख जोसेप बोरेल सहित शीर्ष पश्चिमी अधिकारियों ने यूक्रेन के भविष्य के पुनर्निर्माण में मदद करने के लिए रूस की फ्रीज की गई संपत्तियों को हमेशा के लिए जब्त करने का सुझाव दिया है। जिसके बाद से ही रूस भड़का हुआ है।

रूस बोला- जब्ती से द्विपक्षीय संबंधों को होगा नुकसान
रूसी विदेश मंत्रालय में उत्तरी अमेरिकी विभाग के प्रमुख अलेक्जेंडर डार्चिव ने एक इंटरव्यू में कहा कि हम अमेरिकियों को ऐसे कार्यों के हानिकारक परिणामों के बारे में चेतावनी देते हैं जो स्थायी रूप से द्विपक्षीय संबंधों को नुकसान पहुंचाएंगे। यह न तो उनके हित में है और न ही हमारे हित में है। हालांकि, यह स्पष्ट नहीं हो सका कि वह किन संपत्तियों की बात कर रहे थे।

रूस के खिलाफ ऐक्शन के लिए अधिकार मांग रहा न्याय विभाग
बाइडेन प्रशासन के अनुसार, अमेरिका और उसके यूरोपीय सहयोगियों ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से संबंध रखने वाले धनी व्यक्तियों की 30 बिलियन डॉलर की संपत्ति को भी जब्त कर लिया है। जब्त की गई संपत्तियों में महंगी यॉट, हेलीकॉप्टर, रियल एस्टेट और आर्ट शामिल हैं। पहले ऐसी रिपोर्ट आई थी कि अमेरिकी न्याय विभाग रूस पर दबाव बढ़ाने के लिए रूसी बिजनेसमैन और नेताओं की संपत्तियों को जब्त करने के लिए कांग्रेस से व्यापर अधिकार की मांग की थी।

रूस ने राजनयिक संबंध खत्म करने की भी चेतावनी दी
डार्विच ने यह भी कहा कि अगर रूस को आतंकवाद का राज्य प्रायोजक घोषित किया जाता है तो राजनयिक संबंध बुरी तरह प्रभावित होंगे और यहां तक कि टूट भी सकते हैं। यूक्रेन की स्थिति के बारे में बोलते हुए डार्चिव ने कहा कि कीव पर अमेरिका का प्रभाव इस हद तक बढ़ गया है कि अमेरिकी तेजी से संघर्ष में अधिक से अधिक प्रत्यक्ष पक्ष बन रहे हैं।

About bheldn

Check Also

कांग्रेस नेता शशि थरूर को फ्रांस ने दिया सर्वोच्च नागरिक सम्मान, जानिए क्यों मिला अवॉर्ड?

नई दिल्ली, प्रख्यात लेखक और राजनयिक से राजनेता बने शशि थरूर को मंगलवार को फ्रांस …