BJP में ही जाऊंगा, वे सरासर सफेद झूठ बोल रहे हैं… RCP का नीतीश पर हमला

पटना

अरे वो सरासर सफेद झूठ बोल रहे हैं। उनकी सहमति से ही मंत्री बना था। पाला बदलना था तो झूठ बोल रहे हैं। बीजेपी में शामिल होने का ऐलान करते हुए जेडीयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह ने आज बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला। आरसीपी यहीं नहीं रुके बल्कि एक बार फिर कहा कि नीतीश 7 जनम में देश के पीएम नहीं बन पाएंगे। गौरतलब है कि जेडीयू ने बीजेपी पर आरसीपी के जरिए पार्टी में तोड़फोड़ का आरोप लगाते हुए एनडीए गठबंधन से अलग हो गए थे। वह आरजेडी के सहयोग से 8वीं बार सीएम पद की शपथ ली।

खुल्लमखुल्ला झूठ बोल रहे हैं नीतीश
आरसीपी ने जेडीयू के उस बयान पर कि वह खुद केंद्र में अपनी मर्जी से मंत्री बन गए, इसपर नीतीश को घेर लिया। आरसीपी ने कहा कि यही तो सोचिए, बिना उनकी अनुमति के मैं शपथ ले लेता। नीतीश कुमार भी जानते थे और जो अभी राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं वो भी जानते थे। कोई खुल्लमखुल्ला सफेद झूठ बोलते हैं तो क्या करूं। मैं मंत्री बना 31 जुलाई को इसके बाद राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक क्यों बुलाई गई? क्योंकि एक व्यक्ति एक पद के कारण मैंने पद छोड़ दिया था। 31 जुलाई 2021 का राष्ट्रीय अधिवेशन का वीडियो देख लीजिएगा। सब मुझे बधाई दे रहे थे। जितने पार्टी के मंत्री ने मुझे बधाई दी। सबकी सहमति से बना था। वो सरासर झूठ बोल रहे हैं। इसलिए बोल रहे हैं कि पाला बदलना था।

नीयत बदल गई, जनादेश का हरण कर लिया
एक निजी टीवी चैनल से बात करते हुए आरसीपी ने कहा कि देखिए मेरी वजह से राज्य में गठबंधन नहीं टूटा है। बिहार की जनता ने 2020 में एनडीए को स्पष्ट जनादेश दिया था, बिहार की जनता ने उनको ये ताकत दी थी कि उनके लिए काम किया जाए। लेकिन इनके सबके नीयत बदल गए। अब बताइए साहब पूरा का पूरा जनादेश जो 2020 का था, उसका हरण कर लिया गया और आप दूसरी जगह जाकर बैठ गए और मुझे दोषी बना रहे हैं। अरे 2020 में जब आपको लग रहा था कि बड़ा भारी भीतरघात हुआ है, बड़ी साजिश हुई थी तो यही संख्या उस समय भी थी, उसी समय ये निर्णय ले लिए होते।

कितनी बार पाला बदलिएगा
उन्होंने कहा कि ये बेबुनियाद आरोप है। इस प्रकार के आरोप में कोई दम नहीं है। इन लोगों ने तय कर लिया था, मन बना लिया था कि भाई हमलोगों को अपना पाला बदलना है। लेकिन मैं इस बात को कह रहा हूं कि बताइए साहब कितने बार पाला बदलिएगा, 94 में बदले, 2013 में बदले, 2017 में बदले 2020 में बदले, कौन जवाब देगा। जवाब इनको देना पड़ेगा

7 जनम में पीएम नहीं बन पाएंगे नीतीश, ख्वाब देखते हैं
देखिए मैंने इस बात को कई बार कहा है कि पीएम का उम्मीदवार बनना है जो भी 25 साल से ज्यादा का नागरिक है उसको ये अधिकार देता है संविधान, पीएम बनने के लिए आप जानते हैं कि 545 लोकसभा सीट है 273 आएगा कहां से जी, ये ख्वाब जो देखते हैं, उसमें सच्चाई नहीं है। लोग इसी गलतफहमी में जीते हैं तो इसी प्रकार जनादेश का अपमान करते रहेंगे। मैं तो फिर बोल रहा हूं कि सवाल ही नहीं उठता है कि 7 जनम में नहीं बन पाएंगे पीएम। जब चंद्रशेखर बने थे उस समय परिस्थिति दूसरी थी।

बीजेपी में जाने का ऑप्शन खुला है
यह पूछने पर कि अभी आप कहां हैं तो उन्होंने कहा कि हम तो बिल्कुल सड़क पर हैं। मेरे सारे ऑप्शन खुले हुए हैं जी, बीजेपी में जा सकता हूं। ये तो मैं पहले ही कह चुका हूं। आरसीपी अभी पूरे बिहार में घूमकर कार्यकर्ताओं से मिल रहे हैं।

About bheldn

Check Also

व्यास जी तहखाने में पूजा जारी रहेगी या बंद होगी, सोमवार को हाई कोर्ट ज्ञानवापी पर सुनाएगा फैसला

वाराणसी इलाहाबाद हाईकोर्ट सोमवार को ज्ञानवापी परिसर में व्यास तहखाने में पूजा करने की अनुमति …