मुर्दों के बाद अब बच्चों से भी करा दी गई मजदूरी… मनरेगा योजना में अंधेरगर्दी का खेल, 1 नाम से 3 जॉब कार्ड

हमीरपुर

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले में मनरेगा योजना मजदूरों के लिए मजाक साबित हो रही है। एक गांव में तो मनरेगा योजना में अंधेरगर्दी की सारी हदें ही पार हो गई है। यहां स्कूली बच्चों से मजदूरी कराकर योजना की बड़ी धनराशि ठिकाने लगाई गई है। जिसकी गांव के तमाम लोगों ने बीडीओ के सामने पोल खोली है। बाहरी लोगों के फर्जी जॉब कार्ड के नाम पर भी धांधली की गई है। बीडीओ ने इस पूरे मामले की जांच कराए जाने का फैसला किया है।

हमीरपुर जिले में मनरेगा योजना में आए दिन नए-नए कारनामे सामने आ रहे है। पहले एक गांव में मुर्दों से मजदूरी कराए जाने का मामला सामने आया था जिसकी जांच के बाद बड़ी कार्रवाई सरपंच के खिलाफ हुई है। यह मामला अभी भी जांच की जद में है लेकिन इस बीच राठ ब्लाक क्षेत्र के ददरी गांव में मनरेगा योजना में एक और बड़ा कारनामा सामने आया है। ददरी गांव के लखन, शिवप्रकाश, चन्द्रशेखर, शिवशंकर, नंदकिशोर, हरीशंकर, कुसमा रानी,अशोक, रामसखी, महेन्द्र कुमार, रामसखी व सुनील कुमार सहित अन्य ग्रामीणों ने बीडीओ को साक्ष्यों के साथ शिकायत कर अंधेरगर्दी की पोल खोली है।

ग्रामीणों ने सरंपच और सचिव समेत अन्य कर्मियों पर आरोप लगाया कि आठ से बारह साल के स्कूली बच्चों के नाम जॉब कार्ड बनाए गए है। इन्हीं जॉब कार्डों पर बच्चों से फर्जी मजदूरी कराकर मनरेगा योजना का लाखों रुपये ठिकाने लगाए गए है। ग्रामीणों ने बताया कि बाहरी लोगों के नाम पर भी फर्जी जॉब कार्ड बनाकर सरकारी धन की लूट की गई है।

एक ही नाम के तीन-तीन बना दिए गए जॉब कार्ड
ग्रामीणों ने बताया कि धमना गांव के धनीराम, आनंद, लखन, सुनील व करन सहित अन्य तमाम लोगों के नाम पर जॉब कार्ड जारी किए गए है। जिन पर बैंक खाता किसी और का लगाकर सरकारी धनराशि हड़पी गई है। बताया कि बाहरी लोगों के नाम भी मस्टर रोल में दर्ज किए गए है। इनमें एक ही नाम से तीन-तीन जॉब कार्ड भी बनाए गए है। गांव में मनरेगा योजना के तहत यहां फर्जी मजदूरी दिखाकर बड़ा गोलमाल किया गया है।

बीडीओ ने मामले की जांच कराने का किया फैसला
राठ ब्लाक क्षेत्र के ददरी ग्राम पंचायत के प्रीतम सिंह सहित अन्य ग्रामीणों ने बताया कि इस प्रकरण की शिकायत की गई है लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। गांव के पंचायत सचिव अंजना ने बताया कि तीन महीने मनरेगा योजना में कोई भी काम नहीं कराए गए हैं। इससे पहले का मामला हो सकता है। राठ क्षेत्र के बीडीओ गोपाल यादव ने बताया कि मामले की शिकायत मिली है। जल्द ही पूरे मामले की जांच कराई जाएगी।

About bheldn

Check Also

IPL: राजस्थान से हारकर बाहर हुई कोहली की RCB, अब खिताब से 2 कदम दूर संजू की सेना

अहमदाबाद इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) एलिमिनेटर में संजू सैमसन की कप्तानी वाली राजस्थान रॉयल्स ने …