श्रीनगर में 30 जनवरी को होगा भारत जोड़ो यात्रा का समापन, खड़गे ने 21 पार्टियों को भेजा न्योता

नई दिल्ली,

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने 21 समान विचारधारा वाले विपक्षी दलों के अध्यक्षों को 30 जनवरी को श्रीनगर में भारत जोड़ो यात्रा के समापन समारोह में राहुल गांधी के साथ शामिल होने के लिए आमंत्रित किया है. नेशनल कॉन्फ्रेंस से फारूक और उमर अबदुल्लाह, RJD से तेजस्वी और लालू यादव को न्योता दिया गया है. वहीं कांग्रेस ने शरद यादव को भी अलग से न्योता दिया है.

ऐसे 21 दलों का नाम सामने आया है जिन्हें कि कांग्रेस पार्टी ने भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया है. कांग्रेस ने TMC, JDU, शिवसेना, TDP, नेशनल कॉन्फ्रेंस को आमंत्रित किया है. साथ ही कांग्रेस ने सपा, बसपा, DMK, भाकपा, CPM, झारखंड मुक्ति मोर्चा, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी, हिंदुस्तान आवाम मोर्चा, पीडीपी, राकांपा, एमडीएमके, विदुथलाई चिरुथिगाल काची पार्टी (vCK), IUML, KSM, RSP को न्योता भेजा गया है.

अब तक इतने राज्यों को किया कवर
7 सितंबर 2022 को तमिलनाडु के कन्याकुमारी से भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत हुई थी. यह यात्रा 30 जनवरी 2023 को श्रीनगर में समाप्त होगी. श्रीनगर में यात्रा के समापन पर राहुल गांधी तिरंगा भी फहराएंगे. यह यात्रा अब तक तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और हरियाणा जैसे राज्यों से होकर गुजरी है और फिलहाल पंजाब में है. कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा अब तक 3,300 किलोमीटर से ज्यादा की दूरी तय कर चुकी है और यात्रा होने तक कुल 3,570 किलोमीटर की दूरी तय करेगी.

खड़गे ने दोहराया यात्रा का मकसद
भारत जोड़ो यात्रा को लेकर खड़गे का कहना है कि आज भारत आर्थिक, सामाजिक और राजनीतिक संकट का सामना कर रहा है. इस समय जब संसद और मीडिया में विपक्ष की आवाज दबाई जा रही है, यात्रा लाखों लोगों से सीधे जुड़ रही है.

लोगों से जुड़ाव यात्रा की उपलब्धि’
खड़गे के मुताबिक यात्रा के जरिए हमने अपने राष्ट्र को प्रभावित करने वाले गंभीर मुद्दों – मुद्रास्फीति, बेरोजगारी, सामाजिक विभाजन, लोकतांत्रिक संस्थानों के कमजोर होने और हमारी सीमाओं पर खतरे पर चर्चा की है. कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि समाज के सभी वर्गों ने इस यात्रा में भाग लिया है और अपनी समस्याओं को साझा किया है. भारत जोड़ो यात्रा के जरिए लोगों के साथ सीधी बातचीत कांग्रेस के लिए एक बड़ी उपलब्धि रही है.

About bheldn

Check Also

किसान आंदोलन के बीच मोदी सरकार का बड़ा फैसला, गन्ना खरीद की कीमत में 8 फीसदी की बढ़ोतरी

नई दिल्ली, केंद्र की कैबिनेट की बैठक में बुधवार को कई अहम फैसले लिए गए …