अखिलेश ने बताया लोकसभा चुनाव का प्लान, केशव को बताया योगी का असिस्टेंट

गाज़ीपुर

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव गाजीपुर में इस दौरान उन्होंने पूर्व मंत्री स्वर्गीय कैलाश यादव की मूर्ति का अनावरण किया अखिलेश यादव ने 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव के बारे में बड़ी घोषणा की। अखिलेश ने स्पष्ट किया कि समाजवादी पार्टी अब आगे किसी भी राजनीतिक दल के साथ गठबंधन नहीं करेगी। अब तक जिन दलों के साथ समाजवादी पार्टी है उन्हीं को साथ लेकर 2024 का चुनाव लड़ेगी।

अखिलेश यादव ने स्पष्ट रूप से कहा कि 2024 में वह अब किसी तरीके से कोई भी नया राजनीतिक प्रयोग नहीं करने वाले हैं। अब तक जिन दलों का उन्हें समर्थन हासिल है उन्हीं को साथ रखते हुए 2024 का चुनाव लड़ेंगे।

मेरे ऊपर नहीं कोई मुकदमा-अखिलेश
केशव प्रसाद मौर्य की ओर से समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को अपराधी, गुंडा कहे जाने के सवाल पर अखिलेश ने पलटवार किया। अखिलेश ने कहा मीडिया से बेहतर यह कौन समझेगा कि गुंडा कौन है? अखिलेश यादव ने कहा कि उनके ऊपर कोई भी आपराधिक मामला दर्ज नहीं है। बीजेपी पर आगे हमलावर होते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि केशव प्रसाद मौर्य ऐसा इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि उनके खुद के ऊपर अपराधिक मुकदमे थे, उन मुकदमों को कुछ सालों पहले वापस लिया गया है।

‘मुख्यमंत्री को अस्सिटेंट की जरूरत थी’
अखिलेश यादव ने कहा कि वह डिप्टी सीएम इसलिए बने हैं कि मुख्यमंत्री को अस्सिटेंट की आवश्यकता थी। सियासत करने के लिए यूपी में पिछड़े वर्ग के व्यक्ति को डिप्टी सीएम बनाया गया है। बीजेपी में जो भी पिछड़ा वर्ग का व्यक्ति चला जाता है। उसकी आत्मा मर जाती है। केशव प्रसाद मौर्य चाहते हैं कि विषय से अलग मुद्दों पर चर्चा हो, इसलिए वह विवादित बयान दे रहे है। समाजवादी पार्टी जातीय जनगणना की मांग कर रही है और आबादी के अनुपात में सभी को हक और सम्मान मिले।

काऊ हग डे पर कसा तंज
बीजेपी की ओर से 14 फरवरी को काऊ हग डे मनाए जाने के ऊपर अखिलेश यादव ने सियासी तंग किया। गले मिलने और स्पर्श करने को लेकर 14 फरवरी को स्पर्श दिवस के तौर पर भी मनाया जा सकता था। गाय को स्पर्श करने का दिवस भी कहा जा सकता था। हग दिवस कहां जा रहा है यह उनकी समझ से परे है।

अखिलेश यादव ने गंगा नदी को केंद्र में रखते हुए नदियों की साफ-सफाई पर भी तंज किया। अखिलेश ने कहा कि गंगा नदी पूरी तरीके से प्रदूषित हो चुकी है। गोमती नदी प्रदूषण की वजह से काले पानी वाली नदी में तब्दील हो गई है। अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी कुछ मुद्दों पर सामने नहीं आना चाहती है। समाजवादी पार्टी लगातार काम करती रहेगी और उम्मीद है कि गाजीपुर में जिस तरीके से 2019 में लोकसभा जीते थे ।यूपी में उससे बेहतर परिणाम 2024 में आएगा।

About bheldn

Check Also

स्लॉटर हाउस में अमानवीय स्थिति, दबिश देकर पुलिस ने 57 नाबालिग बच्चों का किया रेस्क्यू

गाजियाबाद, उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद की क्राइम ब्रांच पुलिस और थाना मसूरी पुलिस की संयुक्त …