राहुल ने खुद ही कैंसिल किया था वाराणसी जाने का कार्यक्रम, जानिए विमान लैंडिंग विवाद की पूरी सच्‍चाई

वाराणसी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी को लेकर वाराणसी में देर रात सियासत शुरू हो गई। कांग्रेस नेता अजय राय ने आरोप लगाया कि राहुल गांधी के विमान को वाराणसी में उतरने की इजाजत ही नहीं दी गई। लेकिन वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट की तरफ से इस आरोप को खारिज करते हुए सच्चाई बताई गई है। एयरपोर्ट ने स्पष्टीकरण देते हुए बताया कि ऑपरेटर की तरफ से ही फ्लाइट को कैंसल किया गया था।

दरअसल, कांग्रेस के प्रांतीय अध्यक्ष अजय राय ने सोमवार की रात वाराणसी के जिला प्रशासन और बाबतपुर एयरपोर्ट पर बेहद गंभीर आरोप लगाए। कांग्रेस नेता राहुल गांधी को देर रात एलबीएस एयरपोर्ट पर आकर यहां काशी विश्वनाथ में दर्शन कर फिर प्रयागराज की तरफ जाना था। कांग्रेस की तरफ से आरोप लगा कि राहुल का विमान आसमान में ही चक्कर खाता रहा और लैंडिंग की इजाजत नहीं मिली।

कांग्रेस नेता की तरफ से गंभीर आरोप
कांग्रेस के प्रयागराज के प्रांतीय अध्यक्ष अजय राय समेत सैकड़ों कांग्रेसी नेता एलबीएस एयरपोर्ट पर राहुल गांधी को रिसीव करे के लिए मौजूद थे। अजय राय के अनुसार राहुल गांधी के प्लेन को एयरपोर्ट पर उतरने की इजाजत नहीं दी गई। जब जिला प्रशासन से इस बाबत जानकारी लेनी चाही तो उन्हें बताया गया कि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू शहर में थीं और उनके जाने के बाद शहर में जाम की स्थिति बनी हुई है।

एयरपोर्ट ने बताई मामले की सच्चाई
हालांकि बाबतपुर स्थित लाल बहादुर एयरपोर्ट ने कांग्रेस नेता की तरफ से लगाए गए आरोप को खारिज करते हुए सच्चाई बताई है। बताया गया कि राहुल गांधी ने खुद ही वाराणसी जाने की योजना को कैंसल कर दिया। उनके चार्टेड एयरलाइन ने वाराणसी एयरपोर्ट को सूचना भेजकर इस संबंध में जानकारी दे दी थी। एयरवेज की तरफ से मेल भेजकर फ्लाइट को कैंसल किया गया।

About bheldn

Check Also

ममता बनर्जी पर गरम अधीर रंजन चौधरी के विद्रोही तेवर, खरगे के बयान पर बोले-मैं नहीं करूंगा वेलकम

कोलकाता पश्चिम बंगाल कांग्रेस अध्यक्ष और लोकसभा के पांच बार के सदस्य अधीर रंजन चौधरी …