रामचंद्र पौडेल कौन हैं जो बन सकते हैं नेपाल के नए राष्ट्रपति, ओली-प्रचंड ने भी किया समर्थन

काठमांडू

नेपाली कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रामचंद्र पौडेल का राष्ट्रपति पद के लिए आठ राजनीतिक दलों ने समर्थन किया, जिससे उनका इस शीर्ष पद के लिये निर्वाचित होना लगभग तय हो गया है। प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल ‘प्रचंड’ ने गठबंधन सरकार में साझेदार पार्टी के प्रत्याशी से किनारा कर विपक्षी नेपाली कांग्रेस के नेता पौडेल का इस शीर्ष पद के लिए समर्थन किया है। पौडेल नौ मार्च को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में सीपीएन (एमाले) के उम्मीदवार सुबास नेमवांग के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे। 78 साल के पौडेल और 69 साल के नेमवांग ने शनिवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल किया।

पौडेल को किन-किन पार्टियों ने दिया समर्थन
पौडेल के राष्ट्रपति बिद्या देवी भंडारी का उत्तराधिकारी बनने की प्रबल संभावना है क्योंकि आठ दलों, नेपाली कांग्रेस, नेपाली कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीएन)-माओवादी केंद्र, सीपीएन-एकीकृत समाजवादी, राष्ट्रीय जनता पार्टी, लोकतांत्रिक समाजवादी पार्टी, राष्ट्रीय जनमोर्चा, नागरिक उन्मुक्ति पार्टी और जनमत पार्टी ने उनके पक्ष में मतदान करने का फैसला किया है।

राष्ट्रपति चुनाव में पौडेल की जीत लगभग तय
पौडेल की उम्मीदवारी का प्रस्ताव नेपाली कांग्रेस अध्यक्ष शेर बहादुर देउबा, सीपीएन (एकीकृत समाजवादी) के अध्यक्ष माधव कुमार नेपाल, माओवादी केंद्र के वरिष्ठ उपाध्यक्ष नारायण काजी श्रेष्ठ, जनता समाजवादी पार्टी के संघीय परिषद अध्यक्ष अशोक राय और जनमत पार्टी के अब्दुल खान ने रखा था। आठ राजनीतिक दलों के समर्थन से पौडेल की चुनाव में जीत लगभग तय है।

नेपाली राष्ट्रपति चुनाव में कौन देगा वोट
नेपाली राष्ट्रपति का चुनाव 882 मतदाता करेंगे, जिनमें से 332 सदस्य संसद के हैं, जबकि बाकी 550 सदस्य सात प्रांतीय विधानसभाओं के हैं। संसद के एक सदस्य का मत मूल्य 79 है, जबकि प्रांतीय विधानसभा के एक सदस्य का राष्ट्रपति चुनाव में मत मूल्य 48 है।

कौन हैं रामचंद्र पौडेल
रामचंद्र पौडेल नेपाल की सबसे पुरानी पार्टी नेपाली कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं। उन्होंने नेपाल के उपप्रधानमंत्री और नेपाली संसद के प्रतिनिधि सभा के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया है। पौडेल को 2022 के आम चुनावों में संसद सदस्य के रूप में नवनिर्वाचित किया गया था। वह अभी नेपाल के 6वें कार्यकाल के सांसद के रूप में काम कर रहे हैं। नेपाली कांग्रेस के उनके साथी उन्हें प्यार से ‘राम चंद्र दाई’ के नाम से भी बुलाते हैं।

रामचंद्र पौडेल का राजनीतिक जीवन
रामचंद्र पौडेल 2008 के संविधान सभा चुनाव में तनहू-2 निर्वाचन क्षेत्र से चुने गए थे। उन्होंने 18,970 वोट से बड़ी जीत हासिल की थी। उन्हें 20 जून, 2009 को नेपाली कांग्रेस के संसदीय दल के नेता के रूप में चुना गया। उनके खिलाफ पूर्व प्रधान मंत्री शेर बहादुर देउबा ने चुनाव लड़ा था, जिन्हें सिर्फ 48 वोट मिले, जबकि पौडेल ने 61 वोट हासिल किए। पौडेल नेपाली कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता और केंद्रीय समिति के सदस्य हैं, जिन्होंने पार्टी अध्यक्ष सुशील कोइराला की मृत्यु के बाद नेपाली कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष के रूप में कार्य किया। वह केंद्रीय समिति के सदस्य और उपाध्यक्ष के रूप में कई वर्षों तक पार्टी संगठन में सक्रिय रूप से शामिल रहे।

रामचंद्र पौडेल का व्यक्तिगत जीवन
पौडेल का जन्म सितंबर 1944 में पश्चिमी नेपाल के तनाहुन जिले में स्थित सतीस्वरा के सुदूर गांव में एक किसान परिवार में हुआ था। वह शादीशुदा है और उसके पांच बच्चे हैं, जिनें चार बेटियां और एक बेटा शामिल हैं। उन्होंने 1970 में काठमांडू के त्रिभुवन विश्वविद्यालय से नेपाली साहित्य में एमए किया है। बड़ी बात यह है कि उन्होंने यह परीक्षा पंचायत विरोधी नेता के रूप में जेल में बंद रहते हुए दी थी। उन्होंने 1967 में त्रिभुवन विश्वविद्यालय से संस्कृत साहित्य में शास्त्री भी की थी।

About bheldn

Check Also

MQ-9 रीपर की कब्रगाह बना यमन, हूतियों ने फिर मार गिराया अमेरिका का यह शक्तिशाली ड्रोन!

दुबई: यमन में एक और अमेरिकी MQ-9 रीपर ड्रोन गिरा है। हूतियों ने दावा किया …