उमेश पाल हत्याकांड में बड़ा खुलासा, मर्डर में सामने आया बीजेपी नेता के भाई का नाम

प्रयागराज,

संगम नगरी प्रयागराज में शुक्रवार को राजू पाल हत्याकांड के मुख्य गवाह उमेश पाल की हत्या कर दी गई थी. पुलिस इस वारदात को अंजाम देने वाले हमलावरों की तलाश कर रही है. मामले में अब बड़ा और सनसनीखेज खुलासा हुआ है. हत्याकांड में बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के महानगर अध्य्क्ष राहिल हसन के भाई गुलाम हसन का नाम सामने आया है. उसे नामजद भी किया गया है.

गुलाम को पार्टी से हटाया जा चुका है- बीजेपी जिलाध्यक्ष
हत्याकांड में गुलाम हसन का नाम आने के बाद बीजेपी जिलाध्यक्ष गणेश केसरवानी ने फोन पर हुई बातचीत के दौरान बताया कि गुलाम को पार्टी से हटाया जा चुका है. हालांकि, इस संबंध में अभी कोई लेटर जारी नहीं किया गया है.

एक बदमाश दुकान में कर रहा था उमेश का इंतजार
बता दें कि उमेश पाल और उनके गनर संदीप निषाद की हत्या महज 44 सेकंड के भीतर कर दी गई थी. बेखौफ बदमाशों में से एक बदमाश उमेश का पास की दुकान में इंतजार कर रहा था. उमेश के गाड़ी से उतरते ही शूटर्स ने फायरिंग कर दी थी. सुरक्षा गार्ड संदीप निषाद ढाल बने तो उनको भी गोली मार दी.

घटनास्थल से मिले सीसीटीवी फुटेज के अनुसार, गोली लगने के बाद उमेश पाल घर की तरफ भागे, लेकिन बदमाशों ने पीछा करते हुए तंग गली में घुसकर फायरिंग और बमबारी की. वहीं, गोली लगने से कार के पास गिर पड़े गनर संदीप निषाद भी गली की ओर भागे, जिनको निशाना बनाते हुए बदमाशों ने गली में बम मार दिया. फिर घायल अवस्था में संदीप, उमेश के घर के बाहर गिर पड़े.

About bheldn

Check Also

स्लॉटर हाउस में अमानवीय स्थिति, दबिश देकर पुलिस ने 57 नाबालिग बच्चों का किया रेस्क्यू

गाजियाबाद, उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद की क्राइम ब्रांच पुलिस और थाना मसूरी पुलिस की संयुक्त …