मोदी तेरी सांसें रोक देंगे…आतंकी हाफिज सईद भारत को दे रहा खून की नदियां बहाने की धमकी

रावलपिंडी

पाकिस्‍तान में सेलिब्रिटीज को इस समय भारतीय गीतकार जावेद अख्‍तर की एक टिप्‍पणी पर मिर्ची लगी हुई है। मगर यही सेलिब्रिटीज मोस्‍ट वॉन्‍टेड आतंकी हाफिज सईद के एक वीडियो पर खामोश हैं। आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्‍तान में हथियारों से लैस सेना के जवान सुरक्षा दे रहे हैं। भारत में कई आतंकी हमलों का गुनाहगार लश्‍कर-ए-तैयबा का सरगना हाफिज सईद फिर से जहर उगलने लगा है। घोटकी में कुछ हिंदुओं के धर्मांतरण की खबरों के बाद अब इस मोस्‍ट वॉन्‍टेड आतंकी का एक नया वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में हाफिज सईद खुलेआम भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और देश की जनता को धमका रहा है। वह कह रहा है कि अगर भारत ने पाकिस्‍तान को आने वाला पानी रोका तो फिर वह पीएम मोदी की सांस रोक देगा।

हाफिज सईद ने उगला जहर
वीडियो में आतंकी पीएम मोदी का नाम लेकर कह रहा है,’तू ढाका यूनिवर्सिटी में खड़ा होकर कहे कि पाकिस्‍तान को हमने तोड़ा बांग्‍लादेश हमने बनाया। यह कहे कि हाफिज सईद चुप रहे तो मैं चुप नहीं रहूंगा। तुम्‍हारी जुबान हम खींचकर रहेंगे। तुम इस्‍लामाबाद पर दबाव डाल रहे हो कि हाफिज सईद क्‍यों बोलता है तो अगर तुम बोलोगे तो हम बोलेंगे।’

इसके बाद वह आगे कहता है, ‘तु कहेगा कि पाकिस्‍तान का पानी रोकेंगे, कश्‍मीर के अंदर डैम बनाकर तुम पाकिस्‍तान का पानी रोकेगे। सुन अगर तु पानी बंद करेगा तो हम तेरी सांस बंद करेंगे। इन दरियाओं में फिर खून बहेगा।’ हाफिज सईद का यह वीडियो कब का है और कहां का है, इस बात की कोई जानकारी नहीं मिल सकी है। मगर यह वीडियो पाकिस्‍तान के मंसूबों को बताने के लिए काफी है।

31 साल की सजा का नाटक
नौ अप्रैल 2022 को पाकिस्‍तान की एक कोर्ट ने हाफिज सईद को भारत में साल 2008 में हुए मुंबई आतंकी हमलों में 31 साल की सजा सुनाई थी। कोर्ट ने सईद को हमलों का दोषी माना था। हाफिज को टेरर फाइनेंसिंग के दो मामलों में सजा का ऐलान हुआ था। हाफिज सईद के अलावा पिछले दिनों हिजबुल मुजाहिद्दीन के सरगना सैयद सलाउद्दीन को भी रावलपिंडी में देखा गया था। बताया जा रहा है कि लश्‍कर और हिजबुल सरगना आतं‍की बशीर अहमद पीर के जनाजे में पहुंचे थे। सलाउद्दीन ने भी यहां पर भारत को बर्बाद करने की धमकी दी है।

क्‍या फिर से FATF में आएगा पाकिस्‍तान
हाफिज और सैयद सलाउद्दीन के वीडियोज सामने आने के बाद पाकिस्‍तान की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। फाइनेंशियनल एक्‍शन टास्‍क फोर्स (FATF) के भारतीय मूल के मुखिया टी राजा कुमार ने शुक्रवार को ही मुल्‍क को आगाह किया है कि पाकिस्‍तान पर लगातार नजर रखी जा रही है। टी राजा कुमार ने कहा था कि पाकिस्‍तान को ऐसे कदम उठाने होंगे जो काउंटर टेररिज्‍म सिस्‍टम को मजबूत कर सकें। उनकी मानें तो देश के लिए यह बहुत जरूरी है कि वह अपने वादों पर खरा उतरे। पाकिस्‍तान को पिछले साल अक्‍टूबर में ग्रे लिस्‍ट से हटाया गया था। एंटी-मनी लॉन्ड्रिंग और काउंटर टेररिज्‍म पर दिए गए प्‍लान के बाद उसे हटाया गया था। साल 2018 में पाकिस्‍तान को इस लिस्‍ट में शामिल किया गया था।

About bheldn

Check Also

जहां अफसर मतदान में देरी करते रहे, वहीं बीजेपी के लिए काम करता रहा चुनाव आयोग, उद्धव ठाकरे ने लगाए गंभीर आरोप

मुंबई शिवसेना (यूबीटी) के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने सोमवार को आरोप लगाया कि मुंबई में …