महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की नगरी में हेरिटेज समेत 1000 से ज्यादा पेड़ों का कत्ल, किसी को नहीं लगी भनक

नागपुर

दुनिया भर में पौधरोपण और पेड़ों के संरक्षण के लिए प्रयास किए जा रहे हैं, वहीं दूसरी ओर महाराष्ट्र में अपने फायदे के लिए हजारों पेड़ काटे जा रहे हैं। ऐसी ही एक घटना नागपुर शहर के नारा इलाके से सामने आई है। यहां एक बिल्डर ने बिल्डिंग बनाने के लिए 1000 से ज्यादा पेड़ काट दिए हैं। दिलचस्प बात यह है कि नागपुर नगर निगम को इसकी भनक तक नहीं थी। यह गंभीर मामला एक पर्यावरणविद की शिकायत के बाद सामने आया है। दिलचस्प बात यह है कि यह घटना महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री और गृह मंत्री देवेंद्र फडणवीस के शहर में हुई है।

महाराष्ट्र टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, जेरी प्रॉफिट ग्रुप नाम की एक बिल्डर कंपनी नारा सिमेट्री के पास 5 एकड़ जमीन की मालिक है। बिल्डर की ओर से यहां भवन निर्माण के लिए पिछले दस से 12 दिनों से पेड़ काटे जा रहे हैं। अब तक एक हजार से अधिक पेड़ काटे जा चुके हैं। साथ ही कई और पेड़ काटे जाएंगे। यह मामला नागपुर के एक पेड़ मित्र सचिन खोबरागड़े की शिकायत के बाद सामने आया। जांच के बाद संबंधित के खिलाफ पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई गई है।

कई हेरिटेज पेड़ भी काटे गए
इस घटना के सामने आने के बाद नगर निगम के उद्यान विभाग में हड़कंप मच गया है। शिकायत मिलने के बाद उद्यान विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे। उन्होंने इस बात की पुष्टि की कि इस अवैध कटाई में 20 से अधिक हेरिटेज पेड़ भी काटे गए हैं। साथ ही इसमें सबसे अधिक संख्या में बबूल के पेड़ हैं।

पालिका के प्रशासन पर एक प्रश्नचिन्ह
इस जानकारी के सार्वजनिक होने के बाद नगर निगम की कार्यप्रणाली पर सवाल उठने लगे हैं। एक निर्माण साइट पर पिछले 10 दिनों से पेड़ों की कटाई हो रही है लेकिन नगर निगम को इसकी जानकारी क्यों नहीं है? क्या बिल्डर और नगर निगम के कर्मचारियों की मिलीभगत थी? क्या यह अवैध कटाई नगर निगम के अधिकारियों की देखरेख में हो रही थी? ऐसे सवाल अब उठने लगे हैं।

About bheldn

Check Also

डॉक्टरों ने बनाई ऐसी दवा दोबारा नहीं होगा कैंसर, जानलेवा साइड इफेक्ट्स करेगी कम

मुंबई, देशभर में हर साल बड़ी संख्या में लोग कैंसर से जान गंवा देते हैं. …