लव मैरिज की लिखापढ़ी में मां-बाप जरूरी, गुजरात विधानसभा में विधायकों ने कानून मंत्री से की मांग

अहमदाबाद

गुजरात विधानसभा में गुरुवार को मैरिज का मुद्दा गूंजा। पंचमहाल की कालोल विधानसभा से विधायक फतेह सिंह चौहाण ने राज्य के कानून मंत्री से मांग कि लव मैरिज की स्थिति माता-पिता के हस्ताक्षर जरूरी हो। चौहाण ने मांग की आसामाजिक तत्व बेटियों को फंसाने का काम करते हैं। ऐसे में से अनिवार्य किया जाना चाहिए। फतेह सिंह चौहाण ने कहा जिस जगह पर बेटी का जन्म हुआ है। वहीं पर शादी का लिखा-पढ़ी होनी चाहिए। चौहाण ने कहा कि अभी लव मैरिज में गलत तरीके से बेटियों को फंसाकर दूसरे जिले में शादी करते हैं। चौहाण ने कहा बेटियों की सुरक्षा के लिए ऐसा किया जाना जरूरी है।

कांग्रेस से भी मिला समर्थन
लव मैरिज में माता-पिता की सिग्नेचर को जरूरी करने के मुद्दे पर बीजेपी के विधायक फतेह सिंह चौहाण को कांग्रेस का भी साथ मिला। गुजरात विधानसभा में कांग्रेस की इकलौती महिला विधायक गेनीबेन ठाकोर ने मांग का समर्थन किया। गेनीबेन ने बाद में कहा कि बहनें और बेटियां सुरक्षित रहें, इसकी मांग सदन में की गई। गेनीबेन ने कहा जिस गांवा की बेटी है। उसकी शादी की वहीं दर्ज की जानी चाहिए। गेनीबेन ने फतेह सिंह चौहाण की मांग आगे जाते हुए कि लव मैरिज की समय पर पिता की हाजिरी जरूरी की जाए।इन विधायकों की मांग से पहले उत्तर गुजरात का पाटीदार समाज कोर्ट मैरिज में माता-पिता की दस्तखत की मांग उठा चुका है।

लव जेहाद का भी जिक्र
गेनीबेन ठाकोर ने कहा कि राज्य में लव जेहाद की घटनाएं भी बढ़ रही है। ऐसा होने पर इन घटनाओं में कमी आएगी। लव मैरिज में माता पिता के दस्तखत होने से स्थिति सुधरेगी। आसामाजिक तत्व बेटियों और बहनों को बहला-फुसलाकर वेबकूफ नहीं बना पाएंगे। राज्य में लव जेहाद के मामलों को रोकने के लिए रुपाणी सरकार ने धर्म स्वंत्रतता कानून में संशोधन किया था। जिस एंटी लव जेहाद कानून कहा गया था। उसकी कुछ धाराओं पर कोर्ट ने रोक लगाई हुई है। ऐसे में राज्य में वह कानून अभी काफी हद तक निष्प्रभावी है।

About bheldn

Check Also

व्यास जी तहखाने में पूजा जारी रहेगी या बंद होगी, सोमवार को हाई कोर्ट ज्ञानवापी पर सुनाएगा फैसला

वाराणसी इलाहाबाद हाईकोर्ट सोमवार को ज्ञानवापी परिसर में व्यास तहखाने में पूजा करने की अनुमति …