पंजाब के होश‍ियारपुर में छ‍िपा बैठा है भगोड़ा अमृतपाल सिंह? तलाश में जुटी पुलिस

चंडीगढ़

खालिस्तान समर्थक अमृतपाल सिंह को लेकर बड़ी खबर है। टीवी रिपोर्ट के मुताब‍िक अमृतपाल सिंह पंजाब के होश‍ियारपुर ज‍िले में छ‍िपा बैठा है। सूचना म‍िलने के बाद पंजाब पुल‍िस अमृतपाल सिंह की तलाश में जुट गई है। बताया गया है क‍ि होश‍ियारपुर के नवाशहर में एक गुरुद्वारे के पास संद‍िग्‍ध इनोवा कार म‍िली है। कार म‍िलने के बाद पुल‍िस ने सर्च ऑपरेशन शुरू क‍िया है। हालांकि देर रात तक पुल‍िस की कार्रवाई जारी थी। वहीं होश‍ियारपुर में अमृतपाल सिंह के होने की आध‍िकार‍िक पुष्‍ट‍ि नहीं की गई है।

इससे पहले अलगाववादी अमृतपाल सिंह का एक नया वीडियो मंगलवार को सोशल मीडिया पर सामने आया था। इसमें वह अपने प्रमुख सहयोगी पपलप्रीत सिंह के साथ दिख रहा है। वीडियो में अमृतपाल सिंह बिना पगड़ी के और मास्क पहने हुए दिख रहा है। इस सीसीटीवी फुटेज पर कोई डेट नहीं है और यह दिल्ली के एक बाजार का बताया जा रहा है। इसमें भगोड़ा अमृतपाल काला चश्मा पहने सड़क पर चलते हुए दिख रहा है, जबकि पपलप्रीत सिंह एक बैग के साथ उसके पीछे चलते दिख रहा है।

द‍िल्‍ली में भी द‍िखा अलगाववादी
दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि वे इस बात की जांच कर रहे हैं कि क्या वीडियो में दिख रहे व्यक्ति अमृतपाल सिंह और उसका सहयोगी है। अधिकारी ने कहा क‍ि अभी तक हमारे पास ऐसी कोई जानकारी नहीं है और न ही यह पुष्टि ही हुई है कि वीडियो जिस जगह बनाया गया, वह दिल्ली में है। हालांकि, हम इसकी पुष्टि कर रहे हैं।

सोशल मीड‍िया पर वायरल है वीड‍ियो
यह वीडियो अमृतपाल सिंह और पपलप्रीत सिंह की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर प्रसारित होने के एक दिन बाद सामने आया है। उक्त तस्वीर में दोनों आरामदेह मुद्रा में दिखते हैं और अमृतपाल सिंह पेय पदार्थ की कैन पकड़े नजर आया था। तस्वीर में दिख रहा पपलप्रीत सिंह अमृतपाल सिंह का मार्गदर्शक बताया जाता है। वह कथित तौर पर पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के संपर्क में था।

अमृतपाल सिंह पर कब से हो रही कार्रवाई
18 मार्च को अमृतपाल और उसके संगठन ‘वारिस पंजाब दे’ के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई शुरू होने के बाद से उसकी कई तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आए हैं। पुलिस ने कहा कि वह कई बार अपना हुलिया बदल चुका है। पुलिस ने पहले कहा था कि अमृतपाल सिंह और पपलप्रीत सिंह को 19 मार्च को हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले के शाहाबाद में एक महिला ने कथित तौर पर अपने घर में शरण दी थी।

पच्चीस मार्च को, एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया था, जिसमें अमृतपाल सिंह कथित तौर पर मोबाइल फोन पर बात करते हुए दिखा था। अमृतपाल और उसके सहयोगियों के खिलाफ वैमनस्य फैलाने, हत्या के प्रयास, पुलिसकर्मियों पर हमले और लोकसेवकों के कर्तव्य निर्वहन में बाधा उत्पन्न करने से संबंधित कई आपराधिक आरोपों के तहत मामले दर्ज किए गए हैं। पुलिस ने उनमें से कुछ पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून भी लगाया है। पंजाब पुलिस ने रविवार को कहा कि उसने एहतियातन हिरासत में लिए गए 353 लोगों में से 197 लोगों को रिहा कर दिया है।

About bheldn

Check Also

यूपी: DM के सामने खुली तहसीलदार के अर्दली की पोल, मीटिंग के बीच से भेजा गया जेल

देवरिया , उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में डीएम (DM) ने संपूर्ण समाधान दिवस के …