एक लीटर पेट्रोल पर 19.90 रुपये मोदी सरकार की कमाई, जानिए कितना देते हैं आप टैक्स

नई दिल्ली,

पेट्रोल-डीजल की कीमतें काफी समय से स्थिर हैं. हालांकि, इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल का भाव ऊपर-नीचे जरूर हो रहा है. पिछले साल मार्च में रूस-यूक्रेन के बीच युद्ध छिड़ने के बाद देश में ईंधन की कीमतों में जबरदस्त उबाल आया था. देश की ऑयल कंपनियों को कच्चे तेल की कीमतों में आई उछाल की वजह से पेट्रोल-डीजल के रेट बढ़ाने पड़े थे. फिलहाल देश में पेट्रोल की औसत कीमत लगभग 100 रुपये प्रति लीटर के आसपास है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि एक लीटर पेट्रोल कीमत में टैक्स (TAX) का हिस्सा करीब 50 फीसदी होता है.

ये तेल कंपनियां तय करती हैं दाम
केंद्र और राज्य सरकारें पेट्रोल-डीजल पर भारी-भरकम टैक्स वसूलती हैं. देश में हर दिन देश की प्रमुख तेल कंपनियां हिंदुस्तान पेट्रोलियम , इंडियन ऑयल और भारत पेट्रोलियम पेट्रोल-डीजल के दाम तय करती हैं. केंद्र और राज्य सरकारों के लिए पेट्रोल-डीजल कमाई का एक बड़ा जरिया है.

सरकार की कमाई का बड़ा जरिया
सरकार के आंकड़े के अनुसार, केंद्र और राज्य सरकारों दोनों ने 2022-23 के 9 महीने में 545,002 करोड़ रुपये की कमाई पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स से की थी. वित्त वर्ष 2021-22 में 774,425 करोड़ रुपये, 2020-21 में 672,719 करोड़ रुपये, 2019-20 में 555,370 करोड़ रुपये, 2018-19 में 575,632 करोड़ रुपये, 2017-18 में 543,026 करोड़ रुपये की आमदनी सरकारों को पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स से हुई थी.

कितना देते हैं आप टैक्स?
अब समझ लेते हैं कि एक लीटर पेट्रोल पर केंद्र और राज्य सरकार आपसे कितना टैक्स वसूलती हैं. उदाहरण के तौर पर देखें तो एक मई 2023 दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल भरवाने के लिए 96.72 रुपये खर्च करने पड़ रहे थे. इसमें 35.61 रुपये टैक्स के शामिल थे, जिसमें 19.90 रुपये केंद्र सरकार के खजाने में पहुंचता है और 15.71 रुपये राज्य सरकार के पास गया. इसके अलावा एक लीटर पेट्रोल पर डीलर का कमीशन 3.76 रुपये बनता है. ट्रांसपोर्टेशन के लिए 0.20 पैसे जोड़ा जाता है.

कीमतों का ब्रेकअप
इसे ऐसे समझें दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल का बेस प्राइस 57.15 रुपये है. फिर 0.20 पैसा ट्रांसपोर्टेशन का जुड़ता है. इस तरह की कीमत 57.35 रुपये पर पहुंच जाती है. फिर 19.90 रुपये एक्साइज ड्यूटी (Excise Duty) जुड़ता है, जो केंद्र को मिलता है. फिर डीलर का कमीशन 3.76 रुपये और 15.71 वैट चार्ज जोड़ा जाता है, वैट की राशि दिल्ली सरकार को मिलती है. सब जोड़ देने के बाद कीमत 96.72 रुपये पर पहुंच जाती है.

दिल्ली-मुंबई में आज रेट
IOCL के मुताबिक, देश की राजधानी दिल्ली में शुक्रवार को भी एक लीटर पेट्रोल की कीमत 96.72 रुपये और एक लीटर डीजल का भाव 89.62 रुपये पर ही टिका है. इसके साथ ही देश की आर्थिक राजधानी मुंबई की बात करें, तो यहां पेट्रोल 106.31 रुपये प्रति लीटर और डीजल 94.27 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर है.

 

About bheldn

Check Also

रूसी तेल टैंकरों पर हूतियों के हमले से भारतीय रिफाइनरों को लगा झटका, हो रही ये बड़ी समस्या

नई दिल्ली लाल सागर से गुजरने वाले जहाजों पर हाल के दिनों में हूतियों ने …