बैन@@@, सा@@, कु@@… मैनपुरी की गालीबाज जेल अधीक्षक कोमल मंगलानी का वीडियो वायरल

मैनपुरी

उत्तर प्रदेश के मैनपुरी से जेल अधीक्षक के वायरल वीडियो का मामला सामने आया है। वायरल वीडियो में जेल अधीक्षक कोमल मंगलानी खुलेआम सिपाहियों को गाली देने की बात करती दिख रही है। वीडियो सामने आते ही सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा। वायरल वीडियो ने मैनपुरी से लखनऊ तक अधिकारियों के बीच माहौल को गरमा दिया है। आनन- फानन में जेल अधीक्षक के खिलाफ जांच बैठा दी गई है। इस वायरल वीडियो में जेल अधीक्षक एक सिपाही का नाम लेकर अपशब्दों का इस्तेमाल करती दिख रही हैं। सोशल मीडिया पर इस वीडियो के वायरल होते ही जेल अधीक्षक के खिलाफ लोगों ने कमेंट करना शुरू कर दिया। इस प्रकार की भाषा पर तत्काल कार्रवाई की मांग उठने लगी है। जेल डीजी ने इस वीडियो के सामने आने के बाद जांच बैठा दी है। माना जा रहा है कि जेल अधीक्षक के खिलाफ कार्रवाई भी हो सकती है।

क्या है पूरा मामला?
मैनपुरी जेल अधीक्षक के एक कार्यक्रम के दौरान खुलेआम गाली- गलौच का मामला सामने आया है। मिली जानकारी के मुताबिक, अम्बेडकर जयंती के मौके पर जेल लाइन में एक कार्यक्रम का आयोजन किया था। इस कार्यक्रम में मैनपुरी जेल अधीक्षक कोमल मंगलानी भी कार्यक्रम में पहुंची थी। कार्यक्रम के दौरान जेल अधीक्षक कोमल मंच पर ही मौजूद थीं। उसी दौरान कुछ पुलिसकर्मी आपस में बात करने लगे। इसे देख कर जेल अधीक्षक कोमल मंगलानी का पारा हाई हो गया। वह चिल्ला पड़ीं। उन लोगों पर फटकार लगाते हुए उन्हें भला-बुरा सुना दिया। जेल अधीक्षक यही नहीं रुकी। उन्होंने कहा तुम लोगों गाली देने का मन करता है। वीडियो में जिन गालियों का प्रयोग है, उसे यहां पर लिख पाना संभव नहीं है। उन्होंने सिपाहियों को वाहियात श्रेणी का करार दे दिया। बताया जा रहा है कि कार्यक्रम को लेकर चंदा न मिलने से जेल अधीक्षक नाराज थीं।

चंदा न मिलने का भी जिक्र
वायरल वीडियो में जेल अधीक्षक कहती दिख रही हैं कि आप लोगों ने इंट्रेस्ट नहीं लिया, इसलिए तैयारियां उतनी उम्दा नहीं दिख रही। उन्होंने पिछली बार के कार्यक्रम का जिक्र किया। जेल अधीक्षक ने कहा कि ये बड़े शर्म की बात है, आप लोगों ने सहयोग नहीं किया। हमारे संविधान के लिए उन लोगों ने इतना कुछ किया। आप लोगों के पास 100, 200, 500 रुपए नहीं हैं। सेम ऑन यू…। इन लोगों ने घर- घर जाकर सहयोग के लिए कहा। आप लोगों में इतनी तमीज नहीं है कि आप इन लोगों का सहयोग करें।

जेल अधीक्षक ने यह भी आरोप लगाया कि 50, 100 रुपए तो आप बंदी को थप्पड़ मार कर ले लेते हैं। सिपाहियों में से किसी ने जेल अधीक्षक का वीडियो शूट कर लिया। इसे इंटरनेट पर डाल दिया। इंटरनेट पर अपलोड होते ही वीडियो वायरल हो गया। अब इस मामले में डीजी जेल ने जांच के आदेश दे दिया है।

डीजी जेल ने बैठाई जांच
जेल अधीक्षक कोमल का वीडियो वायरल होने के बाद जेल डीजी ने इस मामले की जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। डीजी जेल की ओर से ट्वीट कर कहा गया है कि मीडिया में मैनपुरी जेल अधीक्षक कोमल मंगलानी का एक वीडियो प्रसारित हो रहा है। इसकी जांच के लिए वरिष्ठ जेल अधीक्षक, सहारनपुर अमिता दुबे को नामित किया गया है। वे पूरे मामले की जांच कर अपनी रिपोर्ट देंगी। इस रिपोर्ट के आधार पर आगे कार्रवाई की जाएगी। जेल अधीक्षक कोमल सोशल मीडिया पर अपने स्वैग से हर किसी को हैरान करती रही हैं। उनके काफी फॉलोअर्स हैं। लेकिन, अब वायरल वीडियो के फेर में वह फंसती दिख रही हैं।

About bheldn

Check Also

असम की जेल में कैद खालिस्तानी अमृतपाल सिंह लड़ेगा लोकसभा चुनाव, जानें पंजाब की किस सीट से भरेगा पर्चा

चंडीगढ़ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत असम की जेल में बंद कट्टरपंथी सिख उपदेशक अमृतपाल …