UP निकाय चुनाव के बाद मिशन 2024 की तैयारियों में जुटे CM योगी

लखनऊ,

उत्तर प्रदेश निकाय चुनाव के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मिशन 2024 की तैयारियों में जुट गए हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नगर निकाय चुनाव में जीते सभी मेयर से फोन पर बात की. उन्होंने 17 नवनिर्वाचित मेयर से फोन पर बात कर बधाई दी.रविवार को सुबह 11 बजे से एक-एक कर योगी ने सभी 17 महापौर(मेयर) से फोन पर बात करके उनकी प्राथमिकताओं के बारे में जाना. साथ ही शहरों के विकास के रोडमैप पर चर्चा की.

आज सीएम गोरखपुर के दौरे पर हैं. गोरखनाथ मंदिर में योगी गोरखपुर के नवनिर्वाचित मेयर डॉ मंगलेश श्रीवास्तव और अन्य निर्वाचित जनप्रतिनिधियों से मिले और उनका अभिनंदन किया.साथ ही अन्य शहरों के नव निर्वाचित मेयर से फोन पर बात की. यूपी में बीजेपी ने सभी 17 नगर निगमों में जीत हासिल की है.

उत्तर प्रदेश में सत्तासीन भाजपा ने शनिवार को सभी 17 नगर निगमों के पदों पर जीत हासिल कर मेयर का चुनाव जीत लिया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की जनता को धन्यवाद दिया और शहरी स्थानीय निकाय चुनावों में पार्टी की “सबसे बड़ी जीत” के बाद राज्य में “ट्रिपल इंजन सरकार” बनाने के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं को भी बधाई दी.

4 मई और 11 मई को हुए थे चुनाव
पार्टी के उम्मीदवारों ने वाराणसी, लखनऊ, अयोध्या, झांसी, बरेली, मथुरा-वृंदावन, मुरादाबाद, सहारनपुर, प्रयागराज, अलीगढ़, शाहजहांपुर, गाजियाबाद, आगरा, कानपुर, गोरखपुर, फिरोजाबाद और मेरठ में जीत हासिल की. 17 मेयरों और 1,401 नगरसेवकों के चुनाव के लिए शहरी स्थानीय निकाय चुनाव दो चरणों में – 4 मई और 11 मई को हुए थे.

राज्य चुनाव आयोग के अनुसार, 19 नगरसेवक निर्विरोध चुने गए. 17 नगर निगमों में से, भाजपा ने केवल कानपुर शहर, बरेली और मुरादाबाद में अपने उम्मीदवारों को दोहराया और तीनों विजयी हुए.

सभी 17 निगमों पर बीजेपी की जीत सीएम योगी ने कहा कि जीत सरकार और संगठन के बीच बेहतर समन्वय का परिणाम है. यहां भाजपा मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन में उपमुख्यमंत्रियों केशव प्रसाद मौर्य और ब्रजेश पाठक के साथ आदित्यनाथ ने कहा कि भाजपा ने पहली बार सभी 17 नगर निगमों में जीत हासिल की है. उन्होंने कहा, “सभी 17 नगर निगमों में मतदाताओं ने भाजपा पर भरोसा जताया है.”

 

About bheldn

Check Also

असम की जेल में कैद खालिस्तानी अमृतपाल सिंह लड़ेगा लोकसभा चुनाव, जानें पंजाब की किस सीट से भरेगा पर्चा

चंडीगढ़ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत असम की जेल में बंद कट्टरपंथी सिख उपदेशक अमृतपाल …