तोड़फोड़, पथराव और आगजनी… अकोला में घंटों चलता रहा उपद्रवियों का तांडव

अकोला,

महाराष्ट्र के अकोला में दो गुटों के बीच हुई झड़प के बाद ऐसा तांडव हुआ कि लोग सहम गए. उपद्रवियों ने शहर में जमकर पथराव किया और वाहनों को फूंक डाला. हिंसा और आगजनी को लेकर 3 पुलिस थाना क्षेत्रों में प्रशासन को धारा 144 लागू करनी पड़ी. इस दौरान घटना में दो पुलिसकर्मियों के साथ आठ लोग घायल हुए हैं.

पुलिस ने 26 लोगों को हिरासत में लिया है. स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए दूसरे जिलों से भारी पुलिस बल बुलाया गया है. पुलिस का कहना है कि एक इंस्टाग्राम पोस्ट को लेकर कुछ लोग शिकायत करने थाने पहुंचे थे. यह मामला अकोला में पुराने शहर थाना क्षेत्र का है.

बताया जा रहा है कि सोशल मीडिया पर किए गए एक आपत्तिजनक पोस्ट को लेकर शिकायत करने थाने पहुंची भीड़ ने उग्र होकर तोड़फोड़ शुरू कर दी. कुछ अराजक तत्वों ने पथराव शुरू कर दिया और वाहनों में आग लगा दी.

देखते ही देखते दो समुदाय के लोग हुए आमने-सामने
देखते ही देखते एक और समुदाय के लोग सामने आ गए, उन्होंने भी पथराव शुरू कर दिया. दोनों पक्षों के बीच जमकर झड़प हुई. हिंसक भीड़ ने ऐसा उपद्रव किया कि लोग घटना को देख सहम गए. पुलिस ने हालात को काबू में करने के लिए बल प्रयोग किया. उपद्रवियों पर आंसू गैस के गोले छोड़े.

उपद्रव के बाद कलेक्टर ने शहर में लगाई धारा 144
इसी बीच कलेक्टर के आदेश पर अकोला शहर में धारा 144 लगा दी गई. अकोला में हुई इस हिंसक घटना का वीडियो भी सामने आया है, जिसमें देखा जा सकता है कि किस तरह लोग एक-दूसरे पर पत्थरबाजी कर रहे हैं. आगजनी की घटना का भी वीडियो सामने आया है.

घटना को लेकर क्या बोले अकोला के एसपी?
इस घटनाक्रम को लेकर एसपी संदीप घुगे ने कहा कि अकोला शहर में दो गुटों के बीच विवाद के चलते शहर में पत्थरबाजी हुई और कुछ गाड़ियों को भी तोड़ा गया. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए स्थिति को नियंत्रण में लिया. कई जगह पर कर्फ्यू भी लगाया गया है. इस घटना में 8 लोग घायल हुए हैं, जिनमें दो पुलिस वाले हैं. इस मामले में अभी तक 26 आरोपियों हिरासत में लिया गया है. उनसे पूछताछ की जा रही है.

 

About bheldn

Check Also

जाति जनगणना को कोई ताकत नहीं रोक सकती… इशारों-इशारों में राहुल का पीएम मोदी पर निशाना

नई दिल्ली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और …