‘कोई गलती नहीं हुई, फेरबदल चलता रहता है…’, कानून मंत्रालय छिनने के बाद बोले रिजिजू

नई दिल्ली,

कानून मंत्रालय छिनने के एक दिन बाद किरेन रिजिजू ने शुक्रवार को भू-विज्ञान मंत्रालय का जिम्मा संभाला. इस दौरान उन्होंने कहा, कैबिनेट में फेरबदल चलता रहता है. ऐसा नहीं है कि उन्हें किसी गलती के चलते हटाया गया. उन्होंने कहा, यह पीएम मोदी की सोच है कि किसे क्या जिम्मेदारी देनी है.

दरअसल, अरुणाचल पश्चिम लोकसभा सीट से सांसद किरेन रिजिजू 2021 में कैबिनेट विस्तार के दौरान कानून मंत्री बनाए गए थे. उनसे गुरुवार को कानून मंत्रालय वापस ले लिया गया. अब उन्हें भू-विज्ञान मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई है. जबकि उनकी जगह अर्जुन राम मेघवाल को कानून मंत्री बनाया गया है. इसके अलावा एसपी सिंह बघेल का विभाग भी बदल दिया है. अब वे कानून और न्याय मंत्रालय की जगह स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय में राज्य मंत्री होंगे.

किरेन रिजिजू से छिना कानून मंत्रालय, अर्जुन मेघवाल को जिम्मेदारी
किरेन रिजिजू ने शुक्रवार को अपने मंत्रालय में पदभार संभाला. इस दौरान उन्होंने कहा, मैं पीएम को बधाई देता हूं कि उन्होंने मुझे अवसर दिया. इसके लिए मैं आभारी हूं. इस दौरान जब उनसे पूछा गया कि उनसे कानून मंत्रालय क्यों वापस ले लिया गया. इस पर उन्होंने कहा, मैं आज राजनीतिक बात नहीं करूंगा. लेकिन मुझसे कोई गलती नहीं हुई. फेरबदल चलता रहता है. विपक्ष का काम ही मेरे खिलाफ बोलना. उनको बोलने दीजिए, ये सब रूटीन प्रोसेस है.

इससे पहले गुरुवार को किरेन रिजिजू ने ट्वीट कर कहा था, ”माननीय पीएम मोदी के मार्गदर्शन में केंद्रीय कानून और न्याय मंत्री के रूप में सेवा करना सौभाग्य रहा. मैं सीजेआई डीवाई चंद्रचूड़, सुप्रीम कोर्ट के सभी जजों, हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस और सभी लॉ अधिकारियों को हमारे नागरिकों के लिए कानूनी सेवाएं प्रदान करने में भारी समर्थन के लिए धन्यवाद देता हूं. मैं पीएम मोदी के दृष्टिकोण को पूरा करने के लिए तत्पर हूं. एक बीजेपी कार्यकर्ता के रूप में मैंने जिस उत्साह और जोश के साथ काम किया था, वैसे ही भू विज्ञान मंत्रालय में जिम्मा संभालूंगा.

2014 से मोदी सरकार में मंत्री हैं रिजिजू
रिजिजू अरुणाचल पश्चिम लोकसभा सीट से बीजेपी सांसद हैं. किरन रिजिजू का जन्म 19 नवंबर, 1971 को अरुणाचल प्रदेश के वेस्ट कामेंग जिले में हुआ था. उनके पास दिल्ली यूनिवर्सिटी से कानून की डिग्री है. उन्होंने 2004 में पहली बार लोकसभा चुनाव (अरुणाचल पश्चिम निर्वाचन क्षेत्र) लड़ा और जीत हासिल की. लेकिन वह 2009 के लोकसभा चुनाव में हार गए.

2014 के चुनाव में रिजिजू ने फिर से जीत हासिल की और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में गृह राज्य मंत्री बनाए गए. इसके बाद वे मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल यानी 2019 में खेल मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बनाए गए थे. जुलाई 2021 में जब कैबिनेट विस्तार के दौरान उन्हें कानून मंत्री बनाया गया था. उन्होंने रविशंकर प्रसाद की जगह यह जिम्मेदारी दी गई.

About bheldn

Check Also

मोदी की बातों को वाहियात बताने वाले मुस्लिम नेता पर गिरी गाज, BJP ने पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया

बीकानेर/जयपुर राजस्थान में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण की वोटिंग से पहले बीजेपी ने बड़ा …