‘फिर न कहना कि गुरुजी ने…’, विरोधियों को धीरेंद्र शास्त्री ने दिया चैलेंज

सागर ,

मध्य प्रदेश में सागर में दिव्य दरबार से बागेश्वर धाम के धीरेंद्र शास्त्री ने अपने विरोधियों को चैलेंज दे दिया है. कहा कि हम अपने गुरुजी के प्रताप और बालाजी सरकार के बल पर प्रण लेकर कहते हैं कि कोई भी मजहब या पंथ का व्यक्ति आकर हमारा सामना कर ले. हम ललकारकर उसको बुला रहे हैं. चमत्कार दिखाने वालों को हम पकड़ेंगे भी नहीं और गीला कर देंगे. इसलिए हमारी प्रार्थना है कि हमारे सामने आना तो उतना ही पूछना जितना सुन सको. फिर नहीं कहना कि गुरुजी ने हमारी पोल खोल दी.

बता दें कि सागर के जैसीनगर में बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेंद्र शास्त्री हनुमंत कथा कर रहे हैं. दूसरे दिन की कथा शुरू होने से पहले दिव्य दरबार लगाया था. यहां मंच से अर्जियां स्वीकार करने से पहले उन्होंने कहा कि विधर्मी ताकतें दिन पर दिन बढ़ रही हैं. व्यक्ति थोड़ा पढ़ जाता है तो उसको लगाता है कि भगवान नहीं है. वो महात्मा तो पाखंडी मानता है. सोचता है धर्म में धंधा होता है.

‘एक को पकड़ेंगे तो 25 को करंट लग जाएगा’
शास्त्री ने कहा कि हमारे पास तो कोई ताकत नहीं है लेकिन जो गुरु का प्रताप और प्रसाद मिला है, उसका प्रण लेकर कहते हैं कि सनातन धर्म के संतों को छोड़कर कोई भी मजहब का व्यक्ति हमारा सामना कर ले. हम ललकारकर उसको सामने बुलाते हैं. हम एक भी व्यक्ति को पकड़ेंगे तो 25 को करंट लग जाएगा. मुंह दिखाने लायक नहीं छोड़ेंगे. हमें अपने बालाजी पर और सन्यासी बाबा पर भरोसा है.

बता दें कि धीरेंद्र शास्त्री के दिव्य दरबार को लेकर कई लोग और संस्थाएं निशाना साध चुकी हैं. हाल ही में सूरत के एक डायमंड कारोबारी ने शास्त्री को पैकेट में रखे हीरों की संख्या बताने की चुनौती दी थी. हालांकि बाद में उसने एक लेटर जारी करके मामले को खत्म करने की बात कही.

सूरत के हीरा कारोबारी ने दिया था ये चैलेंज
गौरतलब है कि सूरत के हीरा कारोबारी  जनक बावरिया ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो अपलोड किया था. इसमें उसने कहा था कि बागेश्वर धाम के धीरेंद्र शास्त्री गुजरात आ रहे हैं. उनका पहला कार्यक्रम सूरत के लिंबायत इलाके में है, जहां वो उनसे मिलना चाहता है.

‘तो धीरेंद्र शास्त्री की दिव्य शक्ति स्वीकार कर लूंगा’
इसके साथ ही जनक ने शास्त्री को चुनौती देते हुए वीडियो में कहा था, अगर वो अपने दिव्य दरबार में सबके सामने बता देंगे कि उसके हाथ में रखे पैकेट में कितने हीरे हैं तो वो शास्त्री की दिव्य शक्ति स्वीकार कर लेगा. साथ ही उनके चरणों में दो करोड़ के हीरे अर्पित कर देगा.

‘हीरा कारोबारी ने जारी किया एक लेटर’
इस चैलेंज के बाद जनक चर्चा में आ गया था. वो लगातार मीडिया से बात करके अपने चैलेंज को दोहरा भी रहा था. अगर, अब हीरा कारोबारी ने एक लेटर जारी किया है. इसके अंदर उसने लिखा है कि उसने धीरेंद्र शास्त्री को जो चैलेंज किया था, उसको लेकर काफी विवाद हो गया था. गुजरात में श्रद्धा और अंधश्रद्धा मामले को लेकर लोगों के बीच विवाद शुरू हुआ. इसको लेकर वो मानसिक प्रताड़ना सह रहा था. ऐसे में अब वो इस मामले का अंत करना चाहता है.

 

About bheldn

Check Also

एमपी बोर्ड 10वीं रिजल्ट जारी, अनुष्का अग्रवाल ने किया टॉप

भोपाल एमपी बोर्ड 10वीं टॉपर्स की लिस्ट रिजल्ट के साथ जारी कर दी गई है। …