सीएम विजयन ने बताई क्या है असली ‘केरला स्टोरी’, बोले- 7 साल में नहीं हुई कोई सांप्रदायिक हिंसा

नई दिल्ली,

इंडिया टुडे कॉन्क्लेव साउथ 2023 के दो दिवसीय सत्र का आज से आगाज हो गया है. कॉन्क्लेव के पहले सत्र में केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन शामिल हुए. मुख्यमंत्री विजयन ने इस दौरान उनके कार्यकाल में केरल सरकार की कई उपलब्धियां पेश की. उन्होंने कहा कि केरल में बीते सात साल में सांप्रदायिक हिंसा की एक भी घटना नहीं हुई है. यह उनकी सरकार की एक बड़ी उपलब्धि है.

मुख्यमंत्री विजयन ने इंडिया टुडे कॉन्क्लेव साउथ के उद्घाटन संबोधन में कहा कि केरल देश का ऐसा पहला राज्य है, जो पूरी तरह से ई-गवर्नेंस हैं. राज्य की सभी सार्वजनिक सेवाएं पूरी तरह से ई-गवर्नेंस प्लेटफॉर्म पर हैं. इसके जरिए सरकार का पूरा फोकस पारदर्शिता सुनिश्चित करने पर है. राज्य की 900 से अधिक सेवाएं ऑनलाइन उपलब्ध हैं.

केरल सरकार की आय राष्ट्रीय औसत आय के मुकाबले बेहतर
उन्होंने कहा कि इसमें कोई शक नहीं है कि केरल की अर्थव्यवस्था तेज रफ्तार से आगे बढ़ रही है. राज्य की आय बढ़ी है और यह राष्ट्रीय औसत आय से बेहतर है. दक्षिण भारत में प्रति व्यक्ति आय बढ़ी है. बीते तीन दशकों में राष्ट्रीय विकास दर के मुकाबले दक्षिण के राज्यों की अर्थव्यवस्था में उछाल देखा गया है. किसी अन्य राज्य के मुकाबले दक्षिण भारत की जीडीपी अधिक है.केरल सरकार ने कर्ज की सीमा भी तय कर दी है ताकि भविष्य में राज्य पर ज्यादा कर्ज का भार नहीं पड़े.

उन्होंने कहा कि केरल एक ऐसा राज्य है, जहां की कानून एवं व्यवस्था देश के किसी भी अन्य राज्य के मुकाबले बेहतर है. केरल में बीते सात साल में एक भी सांप्रदायिक हिंसा नहीं हुई है. बता दें कि पिछले 40 वर्षों से केरल में यह परंपरा बन रही थी कि सत्तारूढ़ राजनीतिक दल को पांच साल बाद बाहर जाने का रास्ता दिखा दिया जाता था. लेकिन 2021 में यह परंपरा टूटी और पिनराई विजयन की अध्यक्षता वाले लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ़्रंट (एलडीएफ) को लगातार दूसरी बार सरकार बनाने का मौका मिला.

केरल मॉडल ऑफ डेवलपमेंट
मुख्यमंत्री विजयन ने कहा कि 2016 में हमारी सरकार ने गवर्नेंस का जो वादा किया था, हमने उसे पूरा किया. 2021 के वादों को भी पूरा किया गया है और किया जा रहा है. केरल कई मामलों में देश के अन्य राज्यों से बेहतर है. उन्होंने कहा कि केरल की भौगोलिक स्थिति ऐसी है कि वह एक तरफ तटोंं और दूसरी तरफ पहाड़ियों से घिरा हुआ है. यहां 44 नदियां बहती हैं. इन सबके बीच हमने रिकॉर्ड रोजगार लोगों को दिया है. ब्रेन ड्रेन के आरोप लगते हैं कि आंकड़ें उठाकर देखेंगे तो पता चलेगा कि ब्रेन ड्रेन (प्रतिभाशाली लोगों का बाहर जाना) कम हुआ है. सरकार ने हर घर बिजली पहुंचाई है. 90 हजार करोड़ रुपेय हेल्थ सेक्टर पर खर्च किए हैं.

अंडरवाटर मेट्रो, डिजिटिल यूनिवर्सिटी वाला केरल
मुख्यमंत्री विजयन ने कहा कि केरल ऐसा पहला राज्य है, जहां देश की पहली डिजिटल यूनिवर्सिटी है. पहली अंडरवाटर मेट्रो केरल में है. डिजिटल पार्क में केरल में ही मौजूद है. सबसे बड़ी बात यहां लोगों में यूनिटी है, जो इस राज्य को बांधे रखती है. उन्होंने कहा कि न्यूयॉर्क टाइम्स ने केरल को भारत का सबसे बड़ा पर्यटक स्थल बताया है. बीते कुछ साल में केरल में घरेलू ही नहीं अंतर्राष्ट्रीय सैलानियों की संख्या भी बढ़ी है. बता दें कि न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, 2023 में दुनियाभर में घूमे जाने लायक जगहों की सूची में भारत के केरल का भी नाम है.

About bheldn

Check Also

असम की जेल में कैद खालिस्तानी अमृतपाल सिंह लड़ेगा लोकसभा चुनाव, जानें पंजाब की किस सीट से भरेगा पर्चा

चंडीगढ़ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत असम की जेल में बंद कट्टरपंथी सिख उपदेशक अमृतपाल …