प्रेग्नेंट होने की गारंटी दी, घर भी छुड़वाया, फिर चला रेप का सिलसिला

ग्वालियर,

ग्वालियर शहर के थाटीपुर इलाके में रहने वाली एक महिला को शादी के 5 साल बाद भी संतान सुख प्राप्त नहीं हुआ. बच्चे की चाह में महिला एक तांत्रिक के चंगुल में फंस गई. तांत्रिक ने पहले तो महिला को घर छोड़ दूसरे मकान में रहने की सलाह दी. कहा कि पुराना घर संतान उत्पत्ति में बाधा पैदा कर रहा है. पति-पत्नी तांत्रिक की बातों में आकर अपना पुराना घर छोड़ किराए के मकान में रहने लगे. तांत्रिक वहां आकर प्रतिदिन आकर तंत्र क्रियाएं करने लगा. फिर एक दिन तांत्रिक एक बड़े संत से मिलवाने के बहाने महिला को अपने साथ दिल्ली ले गया और वहां पर तीन दिन होटल के कमरे में दुष्कर्म किया. वहां से राजस्थान भी ले गया. जैसे-तैसे भागकर आई महिला ने आरोपी के खिलाफ ग्वालियर में मामला दर्ज कराया.

दरअसल, पति-पत्नी पहले से भिंड जिला स्थित रावतपुरा सरकार मंदिर जाते थे. वहीं पास के गांव में रहने वाली महिला की भाभी ने बताया कि गांव में ही एक शीलू त्रिपाठी पंडित जी रहते हैं. उनकी झाड़ फूंक से सबके काम बन जाते हैं.

महिला और उसके पति की मुलाकात शीलू पंडित से हुई. शीलू ने बच्चा होने की गारंटी भी दे दी. उसके बाद शीलू ने कुछ उपाय बताए. पति-पत्नी मिलकर उपाए पूरे किए. लेकिन बच्चों के मामले में कोई सफलता हासिल नहीं हुई.

उसके बाद शीलू ने दोनों पति-पत्नी से कहा कि आपको अपने घर का त्याग करना पड़ेगा. क्योंकि पुराने घर में बहुत बड़ी बाधा है, जिसका काट नहीं हो पा रहा है. इसलिए उसे घर की जगह दूसरी जगह रहना होगा. चाहे मकान किराए का ही क्यों न हो.

दोनों पति-पत्नी तांत्रिक की बात को मानकर अपनी कॉलोनी में ही एक किराए के घर में रहने लगे. तांत्रिक शीलू त्रिपाठी ने स्वयं आकर किराए के घर में तंत्र क्रियाएं कीं. यह सिलसिला 1 महीने तक चलता रहा. उसके बाद शीलू त्रिपाठी चक्रव्यूह रचकर महिला को बड़े संत से मिलवाने के बहाने दिल्ली ले गया. वहां उसने तीन दिन तक महिला के साथ दुष्कर्म किया और दिल्ली से करौली (राजस्थान) ले गया. वहां भी होटल के कमरे में एक दिन दुष्कर्म किया. फिर से दिल्ली ले गया. यह सिलसिला 10 दिन तक चलता रहा. इसी बीच महिला के पति ने पुलिस थाना थाटीपुर में महिला की गुमशुदगी दर्ज करा दी थी.

महिला दिल्ली में तंग आ चुकी थी और उसने तांत्रिक से जिद्द की कि मुझे घर जाना है. वहां से वह किसी तरह से महिला भागकर अपने घर लौट आई. लौटकर पति के साथ पुलिस थाने जाकर पूरा घटनाक्रम बताया.पुलिस ने माना कि घटना की शुरुआत थाटीपुर के अशोक कॉलोनी इलाके की है. इस आधार पर पुलिस ने दुष्कर्म की धारा में एफआईआर दर्ज करके तत्काल दबिश देकर फर्जी तांत्रिक आरोपी शीलू त्रिपाठी को गिरफ्तार कर लिया.

About bheldn

Check Also

फर्जी Dr. के खिलाफ सरकार का एक्शन प्लान रेडी, सिर्फ एक क्लिक से सामने आ जाएगी सारी डिग्री

भोपाल ‘झोला छाप डॉक्टर बने परेशानी’, ‘झोला छाप डॉक्टर ने ली मरीज की जान’, ‘बीमारों …