लोकसभा की विशेषाधिकार समिति को रमेश बिधुड़ी ने दिया गच्चा, नहीं बताया कब होंगे पेश

नई दिल्ली

दानिश अली के साथ बेहद अभद्र व्यवहार करने वाले बीजेपी सांसद रमेश बिधुड़ी ने लोकसभा की विशेषाधिकार समिति के सामने पेश होने से इनकार कर दिया है। उनको आज लोकसभा की समिति के सामने पेश होना था पर बिधुड़ी आए ही नहीं। उनका कहना था कि राजस्थान में असेंबली चुनाव के लिए उनको टोंक की जिम्मेदारी दी गई है। वो अभी राजस्थान में हैं। इस वजह से पेश नहीं हो पाएंगे।

रोचक बात है कि उन्होंने पैनल को ये भी नहीं बताया कि वो कब पेश हो सकते हैं। बिधुड़ी का कहना था कि 9 से लेकर 11 तक वो टोंक में ही रहने वाले हैं। लौटकर ही तारीख तय कर सकते हैं। बिधुड़ी को बीजेपी के थिंकटैंक ने टोंक का प्रभारी बनाया है। चुनाव के दौरान उनको जिम्मेदारी दी गई है कि वो सचिन पायलट पर लगाम कसें। बिधुड़ी पिछले माह उस समय सुर्खियों में आए थे जब उन्होंने लोकसभा सत्र के दौरान ही बसपा सांसद दानिश अली को अपशब्द कहे थे। इस मामले ने काफी तूल पकड़ा था। विपक्षी दलों ने सरकार से तीखा विरोध जताया था। उसके बाद तय हुआ कि लोकसभा की विशेष समिति मामले की जांच करेगी।

दानिश अली ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर आग्रह किया था कि बिधूड़ी पर एक्शन लें। दानिश अली ने अपने लिए पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था की मांग भी की। दक्षिणी दिल्ली से भारतीय जनता पार्टी के सांसद रमेश बिधूड़ी अपने बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियां बटोरते रहते हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर वो खासे हमलावर रहते हैं। वो यहां तक कह चुके हैं कि केजरीवाल लोगों को गुमराह करते हैं। उनका मानना है कि दिल्ली के लोग उन्हें सीएम बनाने की सजा भुगत रहे हैं।

बिधुड़ी के मुताबिक केजरीवाल का एक ही मकसद है नैरेटिव फिक्स करो और लोगों को गुमराह कर बेवकूफ बनाओ। हकीकत यह है कि दिल्ली के सीएम को यहां के लोगों की चिंता करने की फुरसत ही नहीं है। पंजाब सरकार से फ्री में हेलीकॉप्टर मिले हैं। उसके सहारे अपनी कमियों को छुपाने के लिए वो कभी नीतिश कुमार तो कांग्रेस सहित इंडिया गठबंधन के अन्य दलों के नेताओं का चक्कर लगाते रहते हैं।

About bheldn

Check Also

दौलत बढ़े तो माननीयों जैसी! दोबारा लड़ रहे 324 सांसदों की संपत्ति में 5 साल में 43% की औसत बढ़ोतरी

नई दिल्ली लोकसभा चुनाव में फिर से चुनावी मैदान में उतरे 324 सांसदों की संपत्ति …