ऑस्ट्रेलिया नहीं, एक ‘भारतीय’ ने लिखा हमारे हार की स्क्रिप्ट, फाइनल में बिगाड़ दिया खेल

जोहान्सबर्ग

6 मैच और सिर्फ 49 रन। यह लेखा जोखा है हरजस सिंह की। हरजस सिंह अंडर-19 विश्व कप 2024 में भारतीय मूल के ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी हैं। बाएं हाथ का यह बल्लेबाज ऑस्ट्रेलिया के लिए लगातार फेल हो रहा था, लेकिन टीम मैनेजमेंट का भरोसा हरजस पर अडिग था। खुद हरजस को भी नहीं पता था कि फाइनल जैसे बड़े मुकाबले में उन्हें मौका मिलेगा या फिर नहीं, लेकिन भारत जैसी मजबूत टीम के खिलाफ फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के प्लेइंग इलेवन में हरजस मौका दिया गया।

हरजस ने भी टीम मैनेजमेंट के भरोसे का मान रख लिया और भारत के खिलाफ 55 रनों की बेहतरीन पारी खेली। इस पारी में उन्होंने 3 छक्के और 3 चौके लगाए। हरजस की इस पारी ने टीम की हार की स्क्रिप्ट तैयार कर दी। मैच में हरजस ने ना सिर्फ अर्धशतक लगाया बल्कि एक छोर से उन्होंने अपने विकेट बचाए रखा और साथ ही उन्होंने टीम के लिए उपयोगी साझेदारी की।

हरजस की इस अर्धशतक के बदौलत ही ऑस्ट्रेलिया की टीम 50 ओवर में 253 रन के स्कोर तक पहुंच पाई। आईसीसी अंडर-19 विश्व कप के फाइनल में कोई भी इतना बड़ा स्कोर खड़ा नहीं कर पाई थी। ऐसे में टीम इंडिया इस दबाव में बिखर गई और एक भारतीय ही उसके हार का कारण बन गया।

कौन हैं हरज सिंह?
हरजस सिंह का जन्म 31 जनवरी 2005 को सिडनी में हुआ था। उनके जन्म के पांच साल बाद ही उनके पिता ऑस्ट्रेलिया से वापस भारत लौट आए थे। हरजस ने 8 साल की उम्र से क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था। हरजस के पिता और मां भी खेल से जुड़ी रही हैं।हरजस ने एक इंटरव्यू में बताया कि उनके पिता स्टेट लेवल के बॉक्सिंग चैंपियन रह चुके हैं। वहीं मां स्टेट लेवल की लॉन्ग जंपर रही हैं। हरजस के माता-पिता फिलहाल भारत में ही रहते हैं, लेकिन वह खुद अपने क्रिकेटिंग करियर को आगे बढ़ाने के लिए अपने अंकल के पास ऑस्ट्रेलिया में रह रहे हैं। हरजस आखिरी बार साल 2015 में भारत आए थे।

About bheldn

Check Also

मेरे को क्या दिखा रहा… DRS के बीच रोहित स्क्रीन पर खुद को देख कैमरामैन पर क्यों भड़के?

रांची भारतीय कप्तान रोहित शर्मा शुक्रवार इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टेस्ट मैच के पहले दिन …