चुभती-जलती गर्मी को कब शांत करेंगी बाारिश की बौछार? IMD ने बता दी है मॉनसून की तारीख

नई दिल्ली

देश के अधिकांश हिस्सों में इस समय चुभती-जलती गर्मी से पड़ रही है, हर किसी की निगाहें आसमान की तरफ हैं। गर्मी से परेशान लोगों के लिए आज राहत की खबर आई है। मॉनसून की बारिश जल्द होने वाली है। भारत के मौसम विभाग के मुताबिक, मॉनसून इस साल समय से पहले दस्तक देने वाला है। दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के 31 मई तक केरल पहुंचने की उम्मीद है। IMD के पूर्वानुमान के मुताबिक, 19 मई को मॉनसून के अंडमान निकोबार में पहुंचने की संभावना है। उसके बाद मॉनसून देश के अन्य हिस्सों की तरफ बढ़ेगा।

दक्षिण-पश्चिम मानसून के 31 मई के आसपास केरल पहुंचने का अनुमान है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बुधवार को यह जानकारी दी। आईएमडी ने कहा, ‘इस साल, दक्षिण-पश्चिम मॉनसून 31 मई को केरल पहुंचने का अनुमान है।’ आईएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने बुधवार को कहा, ‘यह जल्दी नहीं है। यह सामान्य तारीख के करीब है क्योंकि केरल में मानसून की शुरुआत की सामान्य तारीख एक जून है।’ पिछले महीने, आईएमडी ने जून से सितंबर तक चलने वाले दक्षिण-पश्चिम मानसून मौसम के दौरान सामान्य से अधिक बारिश होने का अनुमान जताया था।

कितना सटीक होता है आईएमडी का पूर्वानुमान?
भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने बुधवार को मॉनसून अपडेट जारी करते हुआ बताया कि मॉनसून के लिए स्थितियां सामान्य बनी हुई हैं। ऐसे में इसके भारत में देरी से आने के आसार नहीं है। सामान्य तौर पर मॉनसून 1 जून को केरल में दस्तक देता है। इस बार इसके 31 मई को आने की संभावना है। इसमें चार दिन के आगे पीछे होने की गुंजाइश भी आईएमडी ने जताई है। मॉनसून के इस बार सामान्य रहने की संभावना पहले ही जाहिर की जा चुकी हैं। आईएमडी पिछले 19 सालों से मॉनसून का पूर्वानुमान कर रहा है। आईएमडी के अनुसार 2005 से 2023 तक 2015 को छोड़कर पूर्वानुमान सही रहा है।

About bheldn

Check Also

दिल्ली में झुलसा रही गर्मी, बिजली की डिमांड के सारे रेकॉर्ड टूटे, लेकिन पावर कट नहीं हुआ केजरीवाल का दावा

नई दिल्ली दिल्ली ने मई में ही बिजली खपत के मामले में अपने 15 साल …