राष्ट्रपति चुनाव में जमकर क्रॉस वोटिंग, कांग्रेस-सपा-NCP… हर पार्टी में सेंध

नई दिल्ली,

देश के 15वें राष्ट्रपति चुनाव के लिए सोमवार को मतदान हुआ. राष्ट्रपति चुनाव में यूपी, गुजरात, ओडिशा से लेकर असम तक क्रॉस वोटिंग भी देखने को मिली. यूपी के बरेली से सपा विधायक शहजील इस्लाम ने द्रौपदी मुर्मू को वोट किया. शहजील इस्लाम यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पर विवादित टिप्पणी के बाद चर्चा में आए थे. इसके बाद उनकी संपत्तियों पर भी बुलडोजर की कार्रवाई की गई थी. उधर, गुजरात में एनसीपी और ओडिशा-असम में कांग्रेस के विधायक द्वारा क्रॉस वोटिंग का दावा किया गया.

कहां कहां हुई क्रॉस वोटिंग ?
यूपी- शहजील इस्लाम बरेली से सपा के विधायक हैं. शहजील इस्लाम ने योगी पर बयान दिया था उसके बाद लगातार प्रशासन की ओर से उनके ठिकानों पर एक्शन हुआ था. शहजील इस्लाम के पेट्रोल पंप पर बुलडोजर भी प्रशासन ने चलवाया था. शहजील इस्लाम आजम खान के समर्थन में भी दिखे थे जब उन्होंने सपा नेताओं के दल से मिलने से इनकार कर दिया था.

इससे पहले प्रसपा प्रमुख और अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव ने कहा था कि विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा ने मुलायम सिंह यादव को आईएसआई एजेंट बताया था. हम उन्हें समर्थन नहीं देंगे. उन्होंने दावा किया था कि जो सपा नेता मुलायम सिंह की विचारधारा को मानते हैं, वे ऐसे आरोप लगाने वाले नेता को कभी वोट नहीं देंगे. हालांकि, वोट देने से पहले पूर्व सीएम और सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि वे यशवंत सिन्हा को वोट करेंगे.

गुजरात में भी क्रॉस वोटिंग
गुजरात में शरद पवार की पार्टी एनसीपी विधायक कंधाल एस जडेजा ने कहा कि उन्होंने एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को वोट किया.

ओडिशा- कांग्रेस विधायक बोले- अंतरात्मा की आवाज सुनी
ओडिशा के कांग्रेस विधायक मोहम्मद मुकीम ने कहा, वे कांग्रेस के विधायक हैं. लेकिन उन्होंने एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को वोट किया. उन्होंने कहा, यह मेरा निजी फैसला है, मैंने अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनी, जिसने मुझे अपनी मिट्टी के लिए कुछ करने के लिए कहा. इसलिए मैंने द्रौपदी मुर्मू को वोट दिया. हालांकि, बताया जा रहा है कि मुकीम ओडिशा में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष न बनाए जाने के चलते नाराज चल रहे हैं.

असम में भी क्रॉस वोटिंग!
AIUDF के विधायक करिमुद्दीन बारभुइया ने दावा किया है कि असम में कांग्रेस के विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की है. करिमुद्दीन के मुताबिक, कांग्रेस ने रविवार को वोटिंग बुलाई थी. इसमें सिर्फ 2-3 विधायक पहुंचे थे. सिर्फ जिला अध्यक्ष ही मीटिंग में पहुंचे थे. इससे साफ होता है कि कांग्रेस के विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की. इतना ही नहीं उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस के 20 से ज्यादा विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की. उन्होंने कहा, नतीजों में आपको नंबर पता चल जाएगा.

About bheldn

Check Also

NEET धांधली मामले में सुप्रीम कोर्ट पहुंचे 20 छात्र, याचिका में 620+ अंक लाए छात्रों की फॉरेंसिक जांच की मांग

नई दिल्ली, NEET UG 2024 की परीक्षा की विसंगतियों को लेकर 20 छात्रों का एक …