शिवपाल और राजभर से टूट गया मोह? सपा चीफ अखिलेश बोले- जहां चाहें जाएं

लखनऊ:

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि मैं यशवंत सिन्हा के पक्ष में वोट डालने जा रहा हूं। उन्होंने कहा देश में कोई ऐसा होना चाहिए जो सरकार को समय-समय पर अर्थव्यवस्था की स्थिति बता सके। हम श्रीलंका के हाल देख ही रहे हैं तो, ऐसे में हमे सोच समझकर काम करने की जरूरत है। वहीं इस दौरान अखिलेश ने बीजेपी पर नफरत फैलाने का आरोप लगाते हुए जमकर हमला बोला। उन्होने कहा बीजेपी धर्म के आधार पर नफरत फैलाती है, इसका उदाहरण कानपुर दंगा है। पुलिस प्रशासन अगर समय में निर्णय लेती और इनकी इंटेलिजेंस फेल नहीं होती तो इतना बड़ा दंगा न कानपुर, न प्रयागराज और न कहीं प्रदेश में होता है ये पुलिस जानबूझकर इसलिए कर रही है क्योंकि नामजद करने में पैसा वसूलने का काम हो रहा है।

अखिलेश ने राजभर को दिया जवाब
इस दौरान सपा मुखिया ने अखिलेश यादव ने बीजेपी के दावे पर कहा अगर एसपी के विधायक बीजेपी के संपर्क में हैं तो उनकी लिस्ट जारी करे। उन्होंने कहा बीजेपी से ज्यादा अच्छा गुमराह करना किसी को नहीं आता है बीजेपी के चरित्र को सब कोई जानता है। वहीं मिल रही जानकारी के मुताबिक, बीजेपी की ओर से दो दर्जन के करीब सपा विधायकों के संपर्क में होने का दावा किया गया है। वहीं अखिलेश यादव ने सुभासपा प्रमुख ओपी राजभर के फैसले पर भी जवाब दिया। अखिलेश ने कहा जिस पार्टी को जो फैसला लेना है वो ले सकते है।

About bheldn

Check Also

J-K: कुपवाड़ा में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, पुंछ में एक जवान शहीद

श्रीनगर, जम्मू-कश्मीर में पिछले कुछ समय से आतंकी घटनाएं तेज हो गई हैं. इस कड़ी …